सर्च इंजिन अनुकूलन सीखे: चाहे ऑनलाइन चुनें या आपके स्थानीय कॉलेज के द्वारा प्रदत्त कोर्स करें, ऑनलाइन जगत में स्वयं को स्थवित करने के लिए सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में ज्ञान होना अतिआवश्यक हैं। सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में जान कर आप अपने व्यवसाय को गूगल के सर्च इंजिन पर लोगो द्वारा खोजे जाने वाले संकेतशब्दो के आधार पर संभावित ग्राहकों का ध्यान ज्यादा प्रभावी तौर पर आकर्षित कर सकते हैं।

लेख बेचें: बहुत सारे छोटे व्यवसाय, वेबसाइट, और व्यापारी अच्छे लेख और आसान संकेतशब्द के साथ लिखे हुए लेख खोजते हैं जिनसे उनको ज्यादा ट्रैफिक मिल सकें। हालाँकि शुरुआत में आप इससे ज्यादा नहीं कमा पाएँगे, सारे लेख मुख्यतः 200-300 शब्दों के होंगे जिन्हें जल्दी से लिखा जा सकता हैं। एक बार आप खुद को साबित कर देंगे तत्पश्चात आप अपनी सेवाओं के लिए ज्यादा कीमत की मांग भी कर सकते है। यदि आप कुशल और अनुभवी लेखक है, तो आप अपने कार्यो को आधिकारिक प्रकाशन को भी दे सकते है।
ऑनलाइन सर्वेक्षण लेने के साथ, आपको अपनी राय देने के लिए भुगतान किया जाता है। बाजार अनुसंधान कंपनियां आपकी प्रतिक्रिया का उपयोग उत्पादों या सेवाओं पर प्रतिक्रिया प्राप्त करने, नए उत्पाद या सेवाएं बनाने, या विभिन्न प्रकार के मुद्दों पर जनता की राय प्राप्त करने के लिए करती हैं। इन साइटों के भीतर पैसा बनाने के अन्य तरीके भी हैं। शुरू करने के लिए, आप बिना निवेश के ऑनलाइन कमाई के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन सर्वेक्षण पोर्टलों की मेरी सूची से परामर्श कर सकते हैं।
रेलमंत्री को अगर यह हिसाब तब भी समझ नहीं आता है, तो एक छात्र ने जो हिसाब भेजा है, वह दे देता हूं. बीकानेर से नागपुर जाने के लिए एक ही ट्रेन है, अणुव्रत एक्सप्रेस, जो हफ्ते में एक-दो दिन ही चलती है. एक तरफ से 26 घंटे का सफर है. दोनों तरफ का किराया मिलाकर टिकट पर सिर्फ 3,240 रुपये खर्च होंगे. 23 जनवरी को पहुंचने के लिए उसे 20 जनवरी को निकलना पड़ेगा, वापसी की ट्रेन 23 और 24 की नहीं है, तो नागपुर में दो दिन रुकना भी पड़ेगा. इस तरह एक परीक्षा देने में उसे सात दिन लगेंगे. 10,000 से अधिक रुपये खर्च हो जाएंगे. रेलमंत्री जी बताएं, एक छात्र को प्रयागराज से कर्नाटक के हुबली भेजने का क्या मतलब. 32 घंटे का सफर तय करना पड़ेगा. वह भी तब, जब आपकी ट्रेन समय से चली, जो चलती नहीं. राजस्थान के गंगानगर से किसी को केरल के कोच्चि में भेजने का क्या मतलब है. क्या इसी को ऑनलाइन इम्तिहान कहते हैं...?
यदि आपके पास भी कोई ऐसा टैलेंट है या आपके पास ऐसी कोई प्रतिभा है जिसे आप दुनिया को दिखाना चाहते हैं और आपकी प्रतिभा लोगों के काम को आसान बनाती है तो आप एक YouTube चैनल बना सकते हैं जब आप अपनी वीडियो यूट्यूब पर अपलोड करेंगे तो लोगों को वह पसंद आनी चाहिए. जब आपकी वीडियो पर बहुत सारे व्यूज आने लगेंगे तो आप वीडियो को Google Adsense से कनेक्ट करके YouTube से पैसे कमा सकते है.

एक ऑनलाइन स्टोर बनाएँ: ऑनलाइन बिक्री खासकर तब ज्यादा प्रभावी होता है जब वे उत्पाद भौतिक बाजारों में ज्यादा ध्यान आकर्षित नहीं कर पाते हैं, लेकिन हाँ रोजमर्रा की चीजें भी बहुत से लोग ऑनलाइन खरीदते हैं, यदि आप वेब तकनीक के बारे में ज्यादा नहीं जानते या वेवसाइट को सँभालने के मामलें में उलझना नही चाहते हैं, आप अपने स्टोर को इबे (eBay) या कैफेप्रेस (caffePress) पर भी बना सकते हैं जो मुफ्त हैं। अथवा यह काम आप किसी वेब डिज़ाइनर को किराये पर रख कर या स्वयं भी कर सकते हैं।
शिक्षा माफियों की पैठ और फर्जी कक्ष निरीक्षकों की तैनाती पर लगाम लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा की ओर से इस साल ऑनलाइन केंद्र बनाने का नया प्रयोग किया गया। वहीं सीबीएसई बोर्ड ने भी पारदर्शिता लाने के लिए हाई स्कूल के होम एग्जाम इसी साल से समाप्त कर दिए। अब हाईस्कूल में भी बोर्ड एग्जाम ही होंगे। इससे स्कूलों की ओर से किए जा रहे फर्जीवाड़े पर लगाम लगी। इसके अलावा सीआईएससीई बोर्ड ने इस बार मार्किंग का पैटर्न बदल दिया। ऐसे में 33 की जगह पासिंग मार्क्स अब 35 कर दिए हैं। सारी प्रतियोगी परीक्षाओं में आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया।
ऑनलाइन सामान बेचना – अगर आप किसी प्रोडक्ट को बनाने में महारत रखते हैं और आपको सिर्फ ऐसे प्लेटफार्म की जरुरत है जहाँ आपके प्रोडक्ट को लाखों लोग देख सके और खरीद सके तो इसके लिए आप ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ऑनलाइन सेलर के रूप में अपने प्रोडक्ट्स बेच सकते हैं। ऐसा करने पर आप बिना खर्च के, लाखों लोगों तक अपने प्रोडक्ट्स की पहुँच बना पाएंगे और अपने प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन बेचकर काफी अच्छा पैसा कमा सकेंगे।
एक ब्लॉग शुरू करने के तरीके के साथ ऑनलाइन बनाने की पहली रणनीति है Clickbank। आमतौर पर लोगों को बाजार में उपलब्ध कराई गई सबसे बड़ी और नवीनतम चीजों के बारे में नवीनतम जानकारी प्राप्त करने के लिए ब्लॉगों से परामर्श करना होगा। जब आप अपने ब्लॉग पर मजबूत जुनून और ऊर्जावान स्वर को उगलते हैं, तो आपके पास ऐसे अनुयायी होते हैं जो हमेशा उन चीज़ों पर विचार करते हैं जिन्हें आप खरीदने के योग्य होने की सलाह देते हैं

मुफ्त में सामान खरीदें / खरीदें, फिर उसे पैसे के लिए बेच दें। यह निश्चित रूप से क्रेगलिस्ट पर काम कर सकता है, क्योंकि लोग लगातार सस्ते में बेच रहे हैं या मुफ्त की चीजें दे रहे हैं जो पूरी तरह से ठीक हैं या टूटी हुई हैं और उन्हें ठीक किया जा सकता है। अक्सर, लोग सबसे बड़ी वस्तुओं को केवल इसलिए छोड़ देते हैं क्योंकि वे उन्हें स्थानांतरित करने का प्रयास नहीं करना चाहते हैं। यदि आपके या आपके दोस्त के पास ट्रक है, तो आप क्रेगलिस्ट के साथ पैसा बनाने के लिए एक महान लाभ हैं।
ब्लॉगिंग – अगर आपको लिखने का शौक है और आप अपने विचार दुनिया के साथ शेयर करना चाहते है तो इसके लिए ब्लॉगिंग एक बेहतरीन बिजनेस ऑप्शन है, जिसमें एक ब्लॉग या वेबसाइट बनाकर उस पर आर्टिकल्स पब्लिश किये जाते हैं और अगर आपके ब्लॉग लोगों को प्रेरित करते हैं तो आपके ब्लॉग या वेबसाइट पर विजिटर की संख्या बढ़ती जाएगी और ऐसे में ब्लॉग पर विज्ञापन प्रदर्शित करके पैसा कमाना काफी आसान हो जाता है।
काउंसलिंग बिजनेस में अच्छा स्कोप है. यदि आप लोगों को सही दिशा में गाइड कर सकते हैं तो ये बिजनेस किया जा सकता है. इसमें कोई कानूनी सलाह, प्रॉपर्टी डिस्प्यूट्स, शादी, बिजनेस, इन्वेस्टमेंट जैसी समस्याओं के बारे में सलाह दी जा सकती है. आजकल लोग ऐसी समस्याओं के लिए ऑनलाइन सर्च करते हैं. यहां आप अपनी वेबसाइट बनाकर लोगों को जोड़ सकते हैं. इसमें लोगो को महतवपूर्ण एप्लीकेशन, रिज्यूम और सीवी जैसी चीजें बनाकर भी आप अपने बिजनेस बढ़ा सकते हैं. इससे घर बैठे कमाई हो सकती है.

इंडिया में और पूरी दुनिया में बहुत सारी डाटा एंट्री जॉब्स मौजूद हैं। ऐसी सैंकड़ों कम्पनियां है जो वास्तविक नहीं है और लोगों को धोखा देती हैं, मार्किट में ऐसी कई फ्रॉड कम्पनियां है जिन्हें सिर्फ आपका रजिस्ट्रेशन अमाउंट चाहिए और अगर आप ऐसी किसी कंपनी का मेम्बर बन के उन्हें अपना रजिस्ट्रेशन अमाउंट दे देते हैं, तो इसके बाद ये कम्पनियां आपको कोई रेस्पोंड नहीं देंगी। ध्यान रखिये, किसी भी टाइपिंग जॉब या डाटा एंट्री जॉब के लिए कोई फीस मत दीजिये। गूगल की सहायता से कंपनी की रेप्युटेशन चेक करने के बाद ही कोई निर्णय लें। 

डोमेन नाम बदलना: डोमेन नाम इंटरनेट जगत के मूल्यवान रियल एस्टेट हैं और कुछ लोग इन्हें बेच और खरीद के अच्छी कीमत कमा रहे हैं। रणनीति के लिए आप गूगल एडवर्ड का इस्तेमाल कर ज्यादा चलन में आ रहे संकेत शब्दों (Keywords) को खोज सकते हैं और अनुमान लगा सकते है कि कौनसे डोमेन नाम की भविष्य में मांग हो सकती हैं। हालाँकि छोटे, रोचक, या सीधे अच्छे डोमेन नाम पहले ही लिए जा चुके हैं, लेकिन फिर भी आप कोई भी आधिवर्णिक (Random acronyms) डोमेन भी ले सकते हैं, जैसे कि कोई नही जानते कि कब किसी व्यक्ति या कंपनी को अपनी वेबसाइट बनाने के लिए उसी नाम की जरूरत हो जाये। (उदहारण के लिए, CPC.com, जो ₹1,20,00000 में बिका था जब कॉन्ट्रैक्ट फार्मास्युटिकल कॉर्पोरेशन ने ऑनलाइन आने का निर्णय लिया।[१] तीन अक्षरो के लिए यह कीमत बुरी नहीं हैं।)

×