ग्वालियर के एक छात्र को असम के तेजपुर में सेंटर दिया गया है. बिहार के खगड़िया के छात्र को 1,700 किलोमीटर दूर आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी में सेंटर दिया गया है. खगड़िया से एक भी ट्रेन वहां नहीं जाती है. जोधपुर के छात्र को 2,000 किलोमीटर दूर ओडिशा के राउरकेला भेजा गया है. 35 घंटे की यात्रा है और दूरी 2,000 किलोमीटर की. इस छात्र ने रेलमंत्री को ट्वीट किया है कि किसी ट्रेन में टिकट भी नहीं है. बंगाल के छात्र को तमिलनाडु के तिरुनेल्वेली सेंटर दिया गया है. ट्रेन में टिकट नहीं है. पश्चिम बंगाल के छात्र का सेंटर मुंबई दिया गया है. झांसी का छात्र हैदराबाद जाए और पश्चिम बंगाल का पुणे. पटना के मनीष को केरल के एरनाकुलम जाना होगा. जयपुर के छात्र को कोलकाता जाना होगा. गंगासागर के मेले के कारण कोलकाता जाने वाली ट्रेन में टिकट नहीं है. बंगाल के मुर्शिदाबाद का छात्र बेंगलुरू कैसे जाएगा. रेलमंत्री खुद अपनी टाइमलाइन पर यह सब देख सकते हैं.
अब आप सोच रहे होंगे कि अपने प्रोडक्ट के बारे में किसे बताएं और फोटो किसे दें तो हम आपकी जानकारी के लिए बता देना चाहते हैं भारत में आज के समय में कई सारी कंपनियां लोगों का ऑनलाइन सामान सेल कराती हैं इनमें से… फ्लिपकार्ट, अमेज़न, स्नैपडील, शॉपक्लूज आदि कंपनी आपके सामान को इंटरनेट की दुनिया में सेल करने का काम करती है जिससे आपकी ऑनलाइन इनकम होना शुरू हो जाएगी.
अभी तक भले ही आप अपने आइडियाज को लांच करने में झिझक महसूस करते आये हों लेकिन अब आप जान चुके हैं कि ऑनलाइन बिज़नेस वो ऑप्शन है जिसमें आपको बहुत ज्यादा इन्वेस्ट करने की जरुरत नहीं है। थोड़ा पैसा और थोड़ा समय इन्वेस्ट करके भी आप इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं और अपने यूनिक आइडियाज और क्रिएटिव टैलेंट के दम पर आप इस बिजनेस को किस मुकाम पर ले जा सकते हैं, ये तो आपके अपने हाथ में है।

एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की शुरुआतलखनऊ विश्वविद्यालय (एलयू) ने छात्रों को विभागों के चक्कर न लगाने पड़े, इसके लिए यूनीक आईडी पोर्टल योजना की शुरुआत की। अब छात्रों को इस पोर्टल की सहायता से एक लॉग इन से सारी जानकारी मिलेगी। इसके अलावा शिकायत के लिए भी पोर्टल लॉन्च किया गया। एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की भी शुरुआत की गई, जिसकी पहली ही काउंसलिंग में सीटें भी फुल हो गईं। छात्रों को दीक्षांत में सिक्यॉरिटी फीचर वाली डिग्री और मार्कशीट दी गई। वहीं बीएलईडी का नया कोर्स भी सम्बद्ध कॉलेजों में शुरू किया गया।
आजकल हर व्यक्ति के पास Smartphone और Internet की सुविधा उपलब्ध है। पिछले कुछ साल से भारत में इंटरनेट users की संख्या अत्यधिक तेजी से बढ़ी है। इसलिए लोगों में यह जानने की इच्छा अत्यधिक है, की इंटरनेट से ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए जाते हैं इसलिए वह Search करते हैं की How to Earn Money from internet in hindi?, घर बैठे इंटरनेट से पैसे कैसे कमाएँ, गूगल से पैसे कैसे कमाएँ, इंटरनेट से पैसे कैसे कमाएँ, इस पोस्ट में आपको इन सभी सवालों के जवाब आसानी से मिल जाएंगे इसलिए आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।
कमाई के मौकों में ब्लॉगिंग, ट्यूटरिंग, रिसर्च, सर्वे, डिजिटल मार्केटिंग, वेबसाइट डिवेलपमेंट, डिजाइनिंग, फोटो एडिटिंग ऐंड सेलिंग जैसी चीजें शामिल हैं। आउटसोर्सिंग और स्टाफिंग फर्म टीमलीज सर्विसेज की सीनियर वीपी (एचआर) नीति शर्मा के मुताबिक, 'आपको अपनी स्किल, नॉलेज और ऐप्टिट्यूड के मुताबिक सही नौकरी चुननी चाहिए। यह ध्यान रखें कि आप आज जो कर रहे हैं वह शिक्षा पूरी होने के बाद आपके करियर और जीवन को आकार देगा।'
यद्यपि वैश्विक बाजार इतनी ऊचाईयों पर भी नहीं पहुँचा है कि लोग अपने कार्यालय पहुँचने के लिए निजी छोटे स्पेसशिप का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन हाँ इसमें इतना परिवर्तन जरूर आ गया हैं कि कर्मचारियों को अपने स्वयं के कंप्यूटर और घर के आराम को नही छोड़ना पड़ता हैं। नीचे आप ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीके और ऑनलाइन विश्व में सफलता प्राप्त करने के लिए जरुरी सामान्य सलाहें देखेंगे।
×