कमाई के मौकों में ब्लॉगिंग, ट्यूटरिंग, रिसर्च, सर्वे, डिजिटल मार्केटिंग, वेबसाइट डिवेलपमेंट, डिजाइनिंग, फोटो एडिटिंग ऐंड सेलिंग जैसी चीजें शामिल हैं। आउटसोर्सिंग और स्टाफिंग फर्म टीमलीज सर्विसेज की सीनियर वीपी (एचआर) नीति शर्मा के मुताबिक, 'आपको अपनी स्किल, नॉलेज और ऐप्टिट्यूड के मुताबिक सही नौकरी चुननी चाहिए। यह ध्यान रखें कि आप आज जो कर रहे हैं वह शिक्षा पूरी होने के बाद आपके करियर और जीवन को आकार देगा।'
शिक्षा माफियों की पैठ और फर्जी कक्ष निरीक्षकों की तैनाती पर लगाम लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा की ओर से इस साल ऑनलाइन केंद्र बनाने का नया प्रयोग किया गया। वहीं सीबीएसई बोर्ड ने भी पारदर्शिता लाने के लिए हाई स्कूल के होम एग्जाम इसी साल से समाप्त कर दिए। अब हाईस्कूल में भी बोर्ड एग्जाम ही होंगे। इससे स्कूलों की ओर से किए जा रहे फर्जीवाड़े पर लगाम लगी। इसके अलावा सीआईएससीई बोर्ड ने इस बार मार्किंग का पैटर्न बदल दिया। ऐसे में 33 की जगह पासिंग मार्क्स अब 35 कर दिए हैं। सारी प्रतियोगी परीक्षाओं में आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया।
हाल ही में रेलमंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल पर रोज़गार से संबंधित एक प्रचार वीडियो जारी किया, जिसकी भाषा से लगता है कि रेलवे ने एक लाख लोगों को रोज़गार दे ही दिया है. सहायक लोको पायलट और टेक्नीशियन के लिए फॉर्म भरने की अंतिम तारीख 31 मार्च, 2018 थी. इसके चार महीने बाद 9 से 13 अगस्त, 2018 के बीच पहली परीक्षा होती है. इस परीक्षा का रिज़ल्ट निकलता है 20 दिसंबर, 2018 को, यानी साढ़े तीन महीने बाद. अब दूसरे चरण की परीक्षा 21, 22, 23 जनवरी, 2019 को होगी. अगर साढ़े तीन महीने का औसत निकालें, तो रिज़ल्ट आते-आते मई, 2019 हो जाएगा. उस समय देश में लोकसभा का चुनाव हो रहा होगा. मई 2019 में रिज़ल्ट आ भी जाएगा, तो अभी मनोवैज्ञानिक और मेडिकल जांच बाकी है. उसके बाद दस्तावेज़ का सत्यापन होगा. कुल मिलाकर अगस्त, 2019 से पहले अंतिम रिज़ल्ट आने की संभावना नहीं है. इनकी ज्वाइनिंग कब होगी, यह तो रेलमंत्री ही जानें. बशर्ते, उन्हें यही पता हो कि अगली बार भी वही रेलमंत्री बनेंगे या नहीं.
आपको कई ऐसी वेबसाइट मिलेंगी जो आपको घर बैठे  एडवरटाइसमेंट पढने के पैसे देंगी, ये ऑनलाइन पैसा कमाने का सबसे आसान तरीका है। एडवरटाइसमेंट  इस समय दुनिया के सबसे बड़े व्यापारों में से एक है। ऐसी वेबसाइट का उद्देश्य अपने शब्दों को लोगों में पहुँचाना होता है। ऐसी कई वेबसाइट हैं जो आपको अपनी एड को पढने के लिए पैसा देने को तैयार हैं। ऐसी वेबसाइट में आप Sign Up करके उनकी एड्स (Advertisement) पढ़कर पैसा कम सकते हैं।बहुत सी साइट्स तो ऐसी हैं जो आपके मोबाइल पर SMS के जरिये AD भेजती हैं, और आपको आपके मोबाइल में AD पढने के पैसे भी देती हैं। इस जॉब को तो घर बैठे कोई भी महिला भी कर सकती है, रोजाना आप जितनी AD देखेंगे, उतना पैसा कम सकते हैं।  
यदि आप अभी कुछ समय से इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं, और आप ऑनलाइन पैसा बनाने का इरादा रखते हैं, तो आप निश्चित रूप से इसके बारे में सुना होगा Clickbank। यह एक ऐसी कंपनी है जो दोनों विक्रेताओं के साथ-साथ सहयोगियों को भी मदद कर सकती है। यदि आप क्या चाहते हैं तो किसी को अपने उत्पादों को बेचने में मदद करना है, तो यह कंपनी आपकी सहायता कर सकती है। यदि आप दूसरों को अपने आइटम को बढ़ावा देने और बेचने के लिए करना चाहते हैं, तो यह एक ऐसा मार्ग भी है जिसे लिया जा सकता है।

ग्वालियर के एक छात्र को असम के तेजपुर में सेंटर दिया गया है. बिहार के खगड़िया के छात्र को 1,700 किलोमीटर दूर आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी में सेंटर दिया गया है. खगड़िया से एक भी ट्रेन वहां नहीं जाती है. जोधपुर के छात्र को 2,000 किलोमीटर दूर ओडिशा के राउरकेला भेजा गया है. 35 घंटे की यात्रा है और दूरी 2,000 किलोमीटर की. इस छात्र ने रेलमंत्री को ट्वीट किया है कि किसी ट्रेन में टिकट भी नहीं है. बंगाल के छात्र को तमिलनाडु के तिरुनेल्वेली सेंटर दिया गया है. ट्रेन में टिकट नहीं है. पश्चिम बंगाल के छात्र का सेंटर मुंबई दिया गया है. झांसी का छात्र हैदराबाद जाए और पश्चिम बंगाल का पुणे. पटना के मनीष को केरल के एरनाकुलम जाना होगा. जयपुर के छात्र को कोलकाता जाना होगा. गंगासागर के मेले के कारण कोलकाता जाने वाली ट्रेन में टिकट नहीं है. बंगाल के मुर्शिदाबाद का छात्र बेंगलुरू कैसे जाएगा. रेलमंत्री खुद अपनी टाइमलाइन पर यह सब देख सकते हैं.


कई कंपनियां डेटा एंट्री ट्रांसक्रिप्ट या ऑडियो डेटा लिखने जैसे कार्यों को आउटसोर्स करना चाहती हैं। यह उतना ही सरल है जितना कि आप उन्हें फाइलें भेजते हैं, और आप उनके सॉफ्टवेयर का उपयोग करके डेटा दर्ज करते हैं, या ऑडियो क्लिप को नोट करते हैं। छात्रों के लिए निवेश के बिना ऑनलाइन डेटा प्रविष्टि नौकरियां ऑनलाइन पैसे कमाने का सबसे आसान और सबसे किफायती तरीका है।
प्रतियोगिताओं में भाग लें: हालाँकि इसमें आपको जीते बिना पैसे नही मिलंगे। आपके कार्यक्षेत्र जैसे फोटोग्राफी, लोगो बनाना, बैकग्राउंड निर्माण में मौजूद "मुफ्त" प्रतिगिताओं की खोज करें और आपकी प्रतियों को ज्यादा से ज्यादा जगहों पर सबमिट करें। यह सब करने में एक पूरा दिन भी लग सकता हैं, लेकिन उनमें से कुछ सफल भी हो सकते है (या, शायद, बहुत सारे भी)। इससे मिलने वाला अनुभव आपको अन्य नए रचनात्मक रास्तो की खोज भी करा सकता है।
×