दोस्तों यदि आप किसी एक क्षेत्र में विशेष जानकारी रखते हैं चाहे वह किसी भी क्षेत्र की क्यों ना हो तो आप एक कंसलटेंट का काम कर सकते हैं यानी आप लोगों को उस क्षेत्र में सलाह दे सकते हैं. इसके लिए आपको हो सकता है कुछ समय जरूर लगेगा पैसे कमाने के लिए जैसे-जैसे आपके नेटवर्क बढ़ते जाएंगे वैसे-वैसे आपकी इनकम बढ़ती जाएगी. इसके लिए आपको इंटरनेट की दुनिया में अपनी पहचान बनानी होगी तभी लोग आपसे सलाह लेना शुरू करेंगे पहले अपने पर्सनल नेटवर्क में सलाह देना शुरु कीजिए फिर उनसे कहना शुरू करें कि वह अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को बताएं कि आप क्या करते हैं.
इंटरनेट के जरिए योगा के बेसिक्स क्लियर कीजिए और ऑनलाइन योगा क्लासेज का बिजनेस शुरू कीजिए. इंटरनेट के साथ-साथ आप योगा एक्सपर्ट्स की किताब का भी सहारा ले सकते हैं. आज कल लोग ऑनलाइन योगा को ढूंढकर घर पर एक्सरसाइज करना चाहते हैं. ऐसे में आप अपनी क्लासेज से उन्हें स्काइप या सीडी के जरिए अपना इंस्ट्रक्टिव प्रोग्राम भेज सकते हैं. इससे लोग आपसे जुड़ेंगे और आप घर बैठे पैसा कमा सकते हैं.
किसी भी ऑनलाइन कार्यक्रम में शामिल होने से पहले उसके बारे में आप अच्छी खोज कर लेवें। यदि कोई कंपनी कार्य शुरुआत से पहले संविदा अनुबन्ध के नाम पर पैसो की मांग करती हैं तो सचेत रहें और उस कंपनी के उपभोक्ता रिपोर्टों को भली भाँति जांच लें और कंपनी के बारे में लिखी गई ऑनलाइन टिप्पणियाँ देख लें। बहुत सी ऑनलाइन कंपनियाँ धोखाधड़ी करती हैं और बिना कोई कार्य प्रदान किये बिना आपके कुछ कीमत लेकर आपको जवाब देना बंद कर देती हैं।
ग्वालियर के एक छात्र को असम के तेजपुर में सेंटर दिया गया है. बिहार के खगड़िया के छात्र को 1,700 किलोमीटर दूर आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी में सेंटर दिया गया है. खगड़िया से एक भी ट्रेन वहां नहीं जाती है. जोधपुर के छात्र को 2,000 किलोमीटर दूर ओडिशा के राउरकेला भेजा गया है. 35 घंटे की यात्रा है और दूरी 2,000 किलोमीटर की. इस छात्र ने रेलमंत्री को ट्वीट किया है कि किसी ट्रेन में टिकट भी नहीं है. बंगाल के छात्र को तमिलनाडु के तिरुनेल्वेली सेंटर दिया गया है. ट्रेन में टिकट नहीं है. पश्चिम बंगाल के छात्र का सेंटर मुंबई दिया गया है. झांसी का छात्र हैदराबाद जाए और पश्चिम बंगाल का पुणे. पटना के मनीष को केरल के एरनाकुलम जाना होगा. जयपुर के छात्र को कोलकाता जाना होगा. गंगासागर के मेले के कारण कोलकाता जाने वाली ट्रेन में टिकट नहीं है. बंगाल के मुर्शिदाबाद का छात्र बेंगलुरू कैसे जाएगा. रेलमंत्री खुद अपनी टाइमलाइन पर यह सब देख सकते हैं.
ऑनलाइन सामान बेचना – अगर आप किसी प्रोडक्ट को बनाने में महारत रखते हैं और आपको सिर्फ ऐसे प्लेटफार्म की जरुरत है जहाँ आपके प्रोडक्ट को लाखों लोग देख सके और खरीद सके तो इसके लिए आप ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ऑनलाइन सेलर के रूप में अपने प्रोडक्ट्स बेच सकते हैं। ऐसा करने पर आप बिना खर्च के, लाखों लोगों तक अपने प्रोडक्ट्स की पहुँच बना पाएंगे और अपने प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन बेचकर काफी अच्छा पैसा कमा सकेंगे।
ऑनलाइन सर्वे भी ऑनलाइन पैसे कमाने का एक बहुत अच तरीका है। ऑनलाइन सर्वे में कम्पनियां अपने प्रोडक्ट के बारे में तथा अपनी सर्विस के बारे में आपका विचार जानने की कोशिश करती हैं, ताकि इसकी मदद से वो अपनी सेल्स को बाधा सकें। ऐसी कई मल्टीनेशनल कम्पनीज में Sign Up कर सकते हैं जो ऑनलाइन सर्वे की सुविधा दे रही हैं। एक बार ऑनलाइन कंपनी के सर्वे से जुड़ने के बाद कंपनी आपके ईमेल में सर्वे भेजेगी। कंपनी द्वारा दिए गए सर्वे को पूरा करने के बाद आप अपने पैसे कंपनी से ले सकते हैं। सिर्फ कुछ ही कंपनियां ऐसी हैं जो सर्वे की सुविधा देती हैं और उनके पैसे देती हैं। ऑनलाइन सर्च करने पर आपको ऐसी हजारों सर्वे साइट्स मिल जाएंगी, जो वास्तविक नहीं हैं, ऐसी साइट्स आपको रजिस्ट्रेशन अम्मौंत देने को कहेंगी।
आज आसानी से पैसे कमाने का सबसे उत्तम तरीका है, अमेज़न पर उपलब्ध डील्स और उत्पादों की जानकारी दूसरों तक पहुँचाना। यहाँ हम आपको सिखाएंगे की कैसे आप अमेज़न एफिलिएट बनकर पैसा कमा सकते है। इसका फायदा ये है कि कोई भी पैसे कमा सकता है। चाहे आप छात्र हो जिसको पॉकेट मनी की जरूरत है, या गृहणी हो जिसको पैसे कमाने का ज़रिया चाहिए, अगर आप पैसा कमाना चाहते हैं, तो कमायेंगे।
ऑनलाइन बुक राइटिंग – पहले जहाँ बुक लिखकर पब्लिश करवाना किसी टेढ़ी खीर जैसा मुश्किल लगता था वहीँ आज इंटरनेट के इस दौर में अगर आप अपनी बुक लिखना चाहते हैं तो बिना किसी खर्च के किसी भी ई बुक पब्लिशिंग वेबसाइट पर फ्री में अपनी ई-बुक पब्लिश करके ऑनलाइन बेच सकते हैं। अमेज़न, फ्लिपकार्ट, ईबे जैसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ई -बुक्स को बड़ी आसानी से बेचा जा सकता है।

डोमेन नाम बदलना: डोमेन नाम इंटरनेट जगत के मूल्यवान रियल एस्टेट हैं और कुछ लोग इन्हें बेच और खरीद के अच्छी कीमत कमा रहे हैं। रणनीति के लिए आप गूगल एडवर्ड का इस्तेमाल कर ज्यादा चलन में आ रहे संकेत शब्दों (Keywords) को खोज सकते हैं और अनुमान लगा सकते है कि कौनसे डोमेन नाम की भविष्य में मांग हो सकती हैं। हालाँकि छोटे, रोचक, या सीधे अच्छे डोमेन नाम पहले ही लिए जा चुके हैं, लेकिन फिर भी आप कोई भी आधिवर्णिक (Random acronyms) डोमेन भी ले सकते हैं, जैसे कि कोई नही जानते कि कब किसी व्यक्ति या कंपनी को अपनी वेबसाइट बनाने के लिए उसी नाम की जरूरत हो जाये। (उदहारण के लिए, CPC.com, जो ₹1,20,00000 में बिका था जब कॉन्ट्रैक्ट फार्मास्युटिकल कॉर्पोरेशन ने ऑनलाइन आने का निर्णय लिया।[१] तीन अक्षरो के लिए यह कीमत बुरी नहीं हैं।)
×