मई 2016 में उनकी कोशिशें रंग लाईं और स्टार्टअप को गूगल के एक प्रोग्राम के तहत छह महीने की मेंटरशिप मिली। इडिकुला के लिए यह सपना सच होने जैसा था। उन्हें लगता है कि एक ऑनलाइन वेंचर शुरू करने का फैसला सही था, जहां विज्ञापनों से कमाई की काफी संभावनाएं हैं। ऑनलाइन टेक्नॉलजी-इनेबल्ड एक्सपेरिमेंटल लर्निंग प्लेटफॉर्म टैलंटस्प्रिंट के सीईओ और एमडी शांतनु पॉल बताते हैं कि ऑनलाइन जॉब्स या बिजनस आइडियाज स्टूडेंट्स की स्टडी के एरिया, इंटरेस्ट और एक्सपर्टाइज के हिसाब से उपलब्ध हैं। पॉल के मुताबिक, 'ऑनलाइन काम भारतीय छात्रों के लिए अहम है। जॉब मार्केट में अपनी रोजगार योग्यता और आकर्षण बढ़ाने का अहम जरिया है। इससे आपको अपने पैरों पर खड़ा होने का मौका मिलता है।'

यह आजकल एक तथ्य है कि लगभग सभी दिए गए काम पहले से ही एक निश्चित अनुबंध के माध्यम से या फ्रीलान्स के आधार पर किया जा सकता है जो इसे सर्वश्रेष्ठ में से एक बनाता है घर पर अतिरिक्त पैसे बनाने के तरीके। वास्तव में, कई ऑनलाइन केंद्र हैं जो आपको यात्रा करने की अनुमति देगा और आपको एक नौकरी तलाशने वाले, अन्य ग्राहकों की वेबसाइटों पर ले जा सकते हैं, जो आपको एक अनुबंध के लिए हकदार होंगे।
नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका सक्सेस इन हिंदी के मंच पर इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं कैसे आप इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमा सकते हैं वो भी बिना किसी इन्वेस्टमेंट के, वैसे तो इंटरनेट की दुनिया से पैसे कमाने के तरीकों के बारे में बहुत सारे लोग पहले से ही जानते हैं किन्तु ऐसे अभी बहुत सारे लोग हैं जिन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं है. यह पोस्ट हमने आज उन्हीं लोगों के लिए लिखी है जो इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमाना चाहते हैं और अभी उनके पास जानकारी नहीं है की कैसे कमाए ऑनलाइन पैसा.
ग्वालियर के एक छात्र को असम के तेजपुर में सेंटर दिया गया है. बिहार के खगड़िया के छात्र को 1,700 किलोमीटर दूर आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी में सेंटर दिया गया है. खगड़िया से एक भी ट्रेन वहां नहीं जाती है. जोधपुर के छात्र को 2,000 किलोमीटर दूर ओडिशा के राउरकेला भेजा गया है. 35 घंटे की यात्रा है और दूरी 2,000 किलोमीटर की. इस छात्र ने रेलमंत्री को ट्वीट किया है कि किसी ट्रेन में टिकट भी नहीं है. बंगाल के छात्र को तमिलनाडु के तिरुनेल्वेली सेंटर दिया गया है. ट्रेन में टिकट नहीं है. पश्चिम बंगाल के छात्र का सेंटर मुंबई दिया गया है. झांसी का छात्र हैदराबाद जाए और पश्चिम बंगाल का पुणे. पटना के मनीष को केरल के एरनाकुलम जाना होगा. जयपुर के छात्र को कोलकाता जाना होगा. गंगासागर के मेले के कारण कोलकाता जाने वाली ट्रेन में टिकट नहीं है. बंगाल के मुर्शिदाबाद का छात्र बेंगलुरू कैसे जाएगा. रेलमंत्री खुद अपनी टाइमलाइन पर यह सब देख सकते हैं.
तो, ये ऑनलाइन पैसा कमाने के 10 आसान तरीके हैं (Top 10 Easy Ways To Earn Money Online in hindi) जिनका उपयोग करके आप बिना किसी  Investment के घर से ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं और हमें उम्मीद है कि ये तरीके आपकी बहुत मदद करेंगे। और अगर हमारी post को लेकर आपके मन मैं कोई सवाल हैं और अगर आपको कोई परेशनी आ रही हैं  तो आप हमे नीचे Comment Box मैं बता सकते हैं ।
शिक्षा माफियों की पैठ और फर्जी कक्ष निरीक्षकों की तैनाती पर लगाम लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा की ओर से इस साल ऑनलाइन केंद्र बनाने का नया प्रयोग किया गया। वहीं सीबीएसई बोर्ड ने भी पारदर्शिता लाने के लिए हाई स्कूल के होम एग्जाम इसी साल से समाप्त कर दिए। अब हाईस्कूल में भी बोर्ड एग्जाम ही होंगे। इससे स्कूलों की ओर से किए जा रहे फर्जीवाड़े पर लगाम लगी। इसके अलावा सीआईएससीई बोर्ड ने इस बार मार्किंग का पैटर्न बदल दिया। ऐसे में 33 की जगह पासिंग मार्क्स अब 35 कर दिए हैं। सारी प्रतियोगी परीक्षाओं में आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया।
आज की इस ऑनलाइन लाइफस्टाइल में इंटरनेट यूजर्स की संख्या बहुत ही तेज़ी से बढ़ी है और ऑनलाइन शॉपिंग से लेकर ऑनलाइन बिजनेस करने तक के ढेरों विकल्प अब हमारे सामने आ गये हैं। इसका सबसे बड़ा फायदा ये है कि अगर आपके पास एक यूनिक आईडिया है तो आप अपना ऑनलाइन बिजनेस बड़ी आसानी से शुरू कर सकते हैं और इस ऑनलाइन बिजनेस में कम इन्वेस्टमेंट के बावजूद भी आप कुछ ही समय में एक अच्छा अमाउंट कमा सकते हैं। ऐसे में आज बात करते हैं ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं और इसके लिए कौनसे विकल्प मौजूद हैं।
इसलिए मेरा तर्क यह है कि रेलमंत्री प्रचार पर कम ध्यान दें और काम पर ज्यादा. रेल बोर्ड से पूछें कि गरीब और साधारण परिवार के छात्रों को 2,000 किलोमीटर भेजने का क्या तुक है. किस तरह से यह ऑनलाइन परीक्षा है, जिसके लिए किसी को 35 घंटे, तो किसी को 40 घंटे की यात्रा करनी पड़ रही है. बेपरवाही की भी हद होती है. अनगिनत महापुरुषों की जयंती और पुण्यतिथि पर ट्वीट करने वाले रेलमंत्री को इन छात्रों की समस्या पर ट्वीट करना चाहिए और समाधान निकालना चाहिए.

यह परामर्श वाले नौकरियों से अंशकालिक परियोजना के अवसरों को फ्रीलान्स लिखने से भिन्न हो सकता है जो विशेषज्ञता के अपने क्षेत्र की देखभाल करते हैं। इसके अलावा, आप सौदा ऑनलाइन बिक्री कर सकते हैं यदि आपके पास पुरानी सीडीएस या किताबें हैं जो आपको लगता है कि अगली पीढ़ी के छात्रों द्वारा उपयोग किया जा सकता है, तो आप अपने अतिरिक्त नकद तेजी से कमाई शुरू करने के लिए किसी भी ऑनलाइन बोली-प्रक्रिया वेब पृष्ठों पर नीलामी चला सकते हैं। दूसरी तरफ, उद्योग में बहुत सारी बड़ी लाइब्रेरी हैं जो आपको अपनी पुस्तकों को भी उन्हें बेचने की अनुमति दे सकती हैं।

इसके अलावा, विज्ञापन की नौकरी भी हो सकती है जो कि शुरुआत और ऑनलाइन कैरियर को छलांग लगाने का एक अच्छा तरीका हो सकती है। वे फ्रीलान्स प्रकार की नौकरियां हैं जो आप शुरू कर सकते हैं वे आपको किसी विशिष्ट समय की स्टाम्प में लॉग इन करने की आवश्यकता नहीं करते हैं, आप किसी भी समय बिना नियत समय पर ब्रेक के लिए जा सकते हैं, और आप एक मालिक के साथ काम नहीं करते हैं जो हमेशा आपकी पीठ के पीछे छिपता रहता है और आपके हर कदम को देख रहा है। आमतौर पर, आप अपनी गति से काम करते हैं


सर्च इंजिन अनुकूलन सीखे: चाहे ऑनलाइन चुनें या आपके स्थानीय कॉलेज के द्वारा प्रदत्त कोर्स करें, ऑनलाइन जगत में स्वयं को स्थवित करने के लिए सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में ज्ञान होना अतिआवश्यक हैं। सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में जान कर आप अपने व्यवसाय को गूगल के सर्च इंजिन पर लोगो द्वारा खोजे जाने वाले संकेतशब्दो के आधार पर संभावित ग्राहकों का ध्यान ज्यादा प्रभावी तौर पर आकर्षित कर सकते हैं।
एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की शुरुआतलखनऊ विश्वविद्यालय (एलयू) ने छात्रों को विभागों के चक्कर न लगाने पड़े, इसके लिए यूनीक आईडी पोर्टल योजना की शुरुआत की। अब छात्रों को इस पोर्टल की सहायता से एक लॉग इन से सारी जानकारी मिलेगी। इसके अलावा शिकायत के लिए भी पोर्टल लॉन्च किया गया। एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की भी शुरुआत की गई, जिसकी पहली ही काउंसलिंग में सीटें भी फुल हो गईं। छात्रों को दीक्षांत में सिक्यॉरिटी फीचर वाली डिग्री और मार्कशीट दी गई। वहीं बीएलईडी का नया कोर्स भी सम्बद्ध कॉलेजों में शुरू किया गया।

ऑनलाइन सामान बेचना – अगर आप किसी प्रोडक्ट को बनाने में महारत रखते हैं और आपको सिर्फ ऐसे प्लेटफार्म की जरुरत है जहाँ आपके प्रोडक्ट को लाखों लोग देख सके और खरीद सके तो इसके लिए आप ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ऑनलाइन सेलर के रूप में अपने प्रोडक्ट्स बेच सकते हैं। ऐसा करने पर आप बिना खर्च के, लाखों लोगों तक अपने प्रोडक्ट्स की पहुँच बना पाएंगे और अपने प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन बेचकर काफी अच्छा पैसा कमा सकेंगे।
ईबुक बेचें: ईबुक सभी के लिए नहीं हैं, लेकिन कभी आपको अत्यावश्यक स्थिति के लिए अच्छा समाधान खोजने की कोशिश की हैं तो आपको दिमाग में जरूर आया होगा कि काश आप इस परेशानी का हल किसी को पैसे देकर जल्दी से प्राप्त कर पाते। इसी तरह ईबुक का व्यापार चलता हैं और उनकी अच्छी मांग भी हैं। ऑनलाइन खोज करे कि बाजार में क्या उपलब्ध हैं और लोग उनके बारे में फोरम में क्या शिकायते और सुझाव दे रहे हैं। उन विषयों पर ईबुक लिखने में अपना समय ख़राब ना करें जिनका जवाब वेब पर आसानी से मिल सकता हैं; अतः अच्छे विषय पर महत्वपूर्ण जानकारियों वाली ईबुक लिखें।
×