आपका म्यूजिक बेचें: कुछ सालों पहले, रेडियोहेड ने अपना नवीनतम एलबम खुद की वेबसाइट पर बेचने का फैसला लिया और इससे उन्होंने अच्छी कमाई भी की। हाँ भले ही आपका कार्य रेडियोहेड के स्तर (फ़िलहाल) का नहीं होगा, लेकिन बहुत से छोटे, स्वतंत्र, और यहाँ तक की बड़े नामो ने भी इस तरीके पर काम किया हैं, और बिना किसी मध्य प्रबंधक के काफी अच्छी बिक्री करने में सफलता प्राप्त की हैं।
भारत दुनिया का अनोखा देश हैं, जहां रेलवे की ऑनलाइन परीक्षा देने के लिए किसी को 26 घंटे की रेलयात्रा करनी पड़ती है. इस महीने 21, 22 और 23 जनवरी को सहायक लोको पायलट और टेक्नीशियन के 64,317 पदों के लिए दूसरे चरण की परीक्षा होनी है. 10 दिन पहले छात्रों के सेंटरों की लिस्ट जारी की गई है. छात्रों के सेंटर 1,500 से 2,000 किलोमीटर दूर दिए गए हैं. प्रधानमंत्री के ट्वीट को री-ट्वीट करने में व्यस्त रेलमंत्री को अपनी ही टाइमलाइन पर आ रहे ऐसे अनेक मैसेजों को नोट करना चाहिए और समाधान करना चाहिए. बहुत से साधारण और किसान परिवारों के छात्रों के सामने संकट आ गया है कि इम्तिहान देने के लिए वे 10,000-20,000 रुपये कहां से ख़र्च करें.

जब आपके पास एक वेबसाइट है जो विशेष वस्तुओं की समीक्षा करता है, तो आप उन चीज़ों पर पैसा बनाने के लिए क्लिकबैंक का लाभ ले सकते हैं जो आप करते हैं क्लिकबैंक का उपयोग करके उन वस्तुओं की समीक्षा देकर, जिन्हें आप क्लिकबैंक का उपयोग करना चाहते हैं, आप लोगों के लिए जगह बना रहे हैं ताकि वे यह जान सकें कि उनका पैसा कैसे खर्च किया जाना चाहिए। इस रणनीति में सफलता की कुंजी, वास्तविक समीक्षाएं तैयार कर रही है जो पाठकों के साथ विश्वास पैदा कर सकती है।
ये चार पॉइंट्स आपके लिए बहुत आवश्यक हैं क्योंकि अगर आप इंटरनेट से पैसे कमाना चाहते हैं तो आपके पास एक अच्छा इंटरनेट कनेक्शन होना जरूरी है। उसके बाद आप जिस मशीन से काम करेंगे मतलब की आपके पास Smartphone या Computer (Laptop/Desktop) होना भी जरूरी है। इसके बाद आपके पास एक अच्छा धैर्य होना चाहिए। क्योंकि ऑनलाइन earning में आपको पहले दिन से earning के बारे में सोचना भी गुनाह है। इसके बाद सबसे महत्वपूर्ण बिंदु है कि आपके अंदर Real और Scam की समझ होना बहुत आवश्यक है। क्योंकि आप जिससे कमाई करने वाले हैं वो सच मे आपको पैसे देगा या फिर आप सिर्फ अपना समय ही बेकार कर रहें हैं। इसकी समझ आपको जरूर होनी चाहिए। आपको ज्यादा लालच में नही पड़ना है।
हाल ही में रेलमंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल पर रोज़गार से संबंधित एक प्रचार वीडियो जारी किया, जिसकी भाषा से लगता है कि रेलवे ने एक लाख लोगों को रोज़गार दे ही दिया है. सहायक लोको पायलट और टेक्नीशियन के लिए फॉर्म भरने की अंतिम तारीख 31 मार्च, 2018 थी. इसके चार महीने बाद 9 से 13 अगस्त, 2018 के बीच पहली परीक्षा होती है. इस परीक्षा का रिज़ल्ट निकलता है 20 दिसंबर, 2018 को, यानी साढ़े तीन महीने बाद. अब दूसरे चरण की परीक्षा 21, 22, 23 जनवरी, 2019 को होगी. अगर साढ़े तीन महीने का औसत निकालें, तो रिज़ल्ट आते-आते मई, 2019 हो जाएगा. उस समय देश में लोकसभा का चुनाव हो रहा होगा. मई 2019 में रिज़ल्ट आ भी जाएगा, तो अभी मनोवैज्ञानिक और मेडिकल जांच बाकी है. उसके बाद दस्तावेज़ का सत्यापन होगा. कुल मिलाकर अगस्त, 2019 से पहले अंतिम रिज़ल्ट आने की संभावना नहीं है. इनकी ज्वाइनिंग कब होगी, यह तो रेलमंत्री ही जानें. बशर्ते, उन्हें यही पता हो कि अगली बार भी वही रेलमंत्री बनेंगे या नहीं.
माइक्रो जॉब ऐसी छोटी जॉब्स हैं जिनको कम्पलीट करने में मिनटों या सेकण्ड्स का समय लगता है। ऐसी बहुत  सी साइट्स हैं जो ऑनलाइन माइक्रो जॉब्स की सुविधा देती हैं। पेज शेयर करना, शोर्ट आर्टिकल लिखना, गूगल में कुछ सर्च करना, रेवेन्यु देना जैसे सैंकड़ों आसान कार्य इसके अंदर आते हैं।  ऐसी साइट्स पर रोजाना दो घंटे काम करके आप घर बैठ 8000 से 10000 रूपए प्रतिमाह कमा सकते हैं।

कॉलेज Students इंटरनेट पर ऑनलाइन part time जॉब से money जमा कर सकते है। अगर आप एक छात्र है और अपने खाली समय में पैसे कमाना चाहते है तो आपके लिए बहुत सी online jobs है जिनसे आप अपनी पढाई के साथ income कर सकते है। जी हाँ दिलचस्पी रखने वाले कुशल लोगों (students) के लिए बहुत से तरीके (नौकरियाँ) है जिनमे से कुछ के बारे में विद्यार्थीयों के लिए इस post में बता रहा हूँ।
ऑनलाइन बुक राइटिंग – पहले जहाँ बुक लिखकर पब्लिश करवाना किसी टेढ़ी खीर जैसा मुश्किल लगता था वहीँ आज इंटरनेट के इस दौर में अगर आप अपनी बुक लिखना चाहते हैं तो बिना किसी खर्च के किसी भी ई बुक पब्लिशिंग वेबसाइट पर फ्री में अपनी ई-बुक पब्लिश करके ऑनलाइन बेच सकते हैं। अमेज़न, फ्लिपकार्ट, ईबे जैसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ई -बुक्स को बड़ी आसानी से बेचा जा सकता है।

मई 2016 में उनकी कोशिशें रंग लाईं और स्टार्टअप को गूगल के एक प्रोग्राम के तहत छह महीने की मेंटरशिप मिली। इडिकुला के लिए यह सपना सच होने जैसा था। उन्हें लगता है कि एक ऑनलाइन वेंचर शुरू करने का फैसला सही था, जहां विज्ञापनों से कमाई की काफी संभावनाएं हैं। ऑनलाइन टेक्नॉलजी-इनेबल्ड एक्सपेरिमेंटल लर्निंग प्लेटफॉर्म टैलंटस्प्रिंट के सीईओ और एमडी शांतनु पॉल बताते हैं कि ऑनलाइन जॉब्स या बिजनस आइडियाज स्टूडेंट्स की स्टडी के एरिया, इंटरेस्ट और एक्सपर्टाइज के हिसाब से उपलब्ध हैं। पॉल के मुताबिक, 'ऑनलाइन काम भारतीय छात्रों के लिए अहम है। जॉब मार्केट में अपनी रोजगार योग्यता और आकर्षण बढ़ाने का अहम जरिया है। इससे आपको अपने पैरों पर खड़ा होने का मौका मिलता है।' 

तीन साल पहले ग्रैजुएशन करने के दौरान पुणे में रहने वाले गौरव जाजू ने घर पर ही बच्चों को साइंस पढ़ाना शुरू किया ताकि कुछ पैसे कमाए जा सकें। इस एक्सपीरियंस से उन्हें मदद मिली। अब फार्मेसी में मास्टर डिग्री ले रहे जाजू खाली वक्त में स्टूडेंट्स के लिए ऑनलाइन लेक्चर चलाते हैं। वह एक साइट पर रजिस्टर्ड हैं, जिसके जरिए उन्हें स्टूडेंट्स मिलते हैं और उनके पैरंट्स पढ़ाई के बारे में उनसे संपर्क कर सकते हैं। इससे न केवल उन्हें अहम टीचिंग एक्सपीरियंस मिल रहा है, बल्कि वह हर महीने 15,000 रुपये तक की कमाई भी कर लेते हैं।
शिक्षा माफियों की पैठ और फर्जी कक्ष निरीक्षकों की तैनाती पर लगाम लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा की ओर से इस साल ऑनलाइन केंद्र बनाने का नया प्रयोग किया गया। वहीं सीबीएसई बोर्ड ने भी पारदर्शिता लाने के लिए हाई स्कूल के होम एग्जाम इसी साल से समाप्त कर दिए। अब हाईस्कूल में भी बोर्ड एग्जाम ही होंगे। इससे स्कूलों की ओर से किए जा रहे फर्जीवाड़े पर लगाम लगी। इसके अलावा सीआईएससीई बोर्ड ने इस बार मार्किंग का पैटर्न बदल दिया। ऐसे में 33 की जगह पासिंग मार्क्स अब 35 कर दिए हैं। सारी प्रतियोगी परीक्षाओं में आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया।

मुफ्त में सामान खरीदें / खरीदें, फिर उसे पैसे के लिए बेच दें। यह निश्चित रूप से क्रेगलिस्ट पर काम कर सकता है, क्योंकि लोग लगातार सस्ते में बेच रहे हैं या मुफ्त की चीजें दे रहे हैं जो पूरी तरह से ठीक हैं या टूटी हुई हैं और उन्हें ठीक किया जा सकता है। अक्सर, लोग सबसे बड़ी वस्तुओं को केवल इसलिए छोड़ देते हैं क्योंकि वे उन्हें स्थानांतरित करने का प्रयास नहीं करना चाहते हैं। यदि आपके या आपके दोस्त के पास ट्रक है, तो आप क्रेगलिस्ट के साथ पैसा बनाने के लिए एक महान लाभ हैं।
किसी भी ऑनलाइन कार्यक्रम में शामिल होने से पहले उसके बारे में आप अच्छी खोज कर लेवें। यदि कोई कंपनी कार्य शुरुआत से पहले संविदा अनुबन्ध के नाम पर पैसो की मांग करती हैं तो सचेत रहें और उस कंपनी के उपभोक्ता रिपोर्टों को भली भाँति जांच लें और कंपनी के बारे में लिखी गई ऑनलाइन टिप्पणियाँ देख लें। बहुत सी ऑनलाइन कंपनियाँ धोखाधड़ी करती हैं और बिना कोई कार्य प्रदान किये बिना आपके कुछ कीमत लेकर आपको जवाब देना बंद कर देती हैं।
इन साइटों का उपयोग लिंक को Short करने के लिए किया जाता है उसके बाद आप उस Short link या URL को जादा से जादा शेयर करना होता हैं आप इन्हें Social Sites (जैसे Facebook और Twitter)  या आप इसे अपनी खुद की ब्लॉग या साइट पर भी Use कर सकते हैं। जब भी कोई Visitor आपके short URL या link पर क्लिक करता है तो कुछ पैसे आपके URL शॉर्टनर Site के Account में add कर दियेे जाते है।
ग्वालियर के एक छात्र को असम के तेजपुर में सेंटर दिया गया है. बिहार के खगड़िया के छात्र को 1,700 किलोमीटर दूर आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी में सेंटर दिया गया है. खगड़िया से एक भी ट्रेन वहां नहीं जाती है. जोधपुर के छात्र को 2,000 किलोमीटर दूर ओडिशा के राउरकेला भेजा गया है. 35 घंटे की यात्रा है और दूरी 2,000 किलोमीटर की. इस छात्र ने रेलमंत्री को ट्वीट किया है कि किसी ट्रेन में टिकट भी नहीं है. बंगाल के छात्र को तमिलनाडु के तिरुनेल्वेली सेंटर दिया गया है. ट्रेन में टिकट नहीं है. पश्चिम बंगाल के छात्र का सेंटर मुंबई दिया गया है. झांसी का छात्र हैदराबाद जाए और पश्चिम बंगाल का पुणे. पटना के मनीष को केरल के एरनाकुलम जाना होगा. जयपुर के छात्र को कोलकाता जाना होगा. गंगासागर के मेले के कारण कोलकाता जाने वाली ट्रेन में टिकट नहीं है. बंगाल के मुर्शिदाबाद का छात्र बेंगलुरू कैसे जाएगा. रेलमंत्री खुद अपनी टाइमलाइन पर यह सब देख सकते हैं.
ईबुक बेचें: ईबुक सभी के लिए नहीं हैं, लेकिन कभी आपको अत्यावश्यक स्थिति के लिए अच्छा समाधान खोजने की कोशिश की हैं तो आपको दिमाग में जरूर आया होगा कि काश आप इस परेशानी का हल किसी को पैसे देकर जल्दी से प्राप्त कर पाते। इसी तरह ईबुक का व्यापार चलता हैं और उनकी अच्छी मांग भी हैं। ऑनलाइन खोज करे कि बाजार में क्या उपलब्ध हैं और लोग उनके बारे में फोरम में क्या शिकायते और सुझाव दे रहे हैं। उन विषयों पर ईबुक लिखने में अपना समय ख़राब ना करें जिनका जवाब वेब पर आसानी से मिल सकता हैं; अतः अच्छे विषय पर महत्वपूर्ण जानकारियों वाली ईबुक लिखें।
×