पिछले साल रेलवे ने 64,317 पदों की वेकेंसी निकाली थी, जिसकी पहली परीक्षा अगस्त, 2018 में हुई. 31 मार्च तक फार्म भरे गए थे. 47 लाख से अधिक छात्रों ने फार्म भरे थे. इन सबका सेंटर अचानक 1,500-2,000 किलोमीटर दूर दे दिया गया. किसी को ट्रेन में रिज़र्वेशन नहीं मिला, तो किसी के पास टिकट के पैसे नहीं थे. किसी तरह इम्तिहान देने पहुंचे, तो रात प्लेटफार्म पर गुज़ारी. बहुत से छात्रों का इम्तिहान इसलिए छूट गया कि उनकी ट्रेन लेट हो गई. छात्र चिल्लाते रहे, रोते रहे, रेलमंत्री को ट्वीट करते रहे, मगर किसी को कुछ फर्क नहीं पड़ा.
ग्वालियर के एक छात्र को असम के तेजपुर में सेंटर दिया गया है. बिहार के खगड़िया के छात्र को 1,700 किलोमीटर दूर आंध्र प्रदेश के राजामुंदरी में सेंटर दिया गया है. खगड़िया से एक भी ट्रेन वहां नहीं जाती है. जोधपुर के छात्र को 2,000 किलोमीटर दूर ओडिशा के राउरकेला भेजा गया है. 35 घंटे की यात्रा है और दूरी 2,000 किलोमीटर की. इस छात्र ने रेलमंत्री को ट्वीट किया है कि किसी ट्रेन में टिकट भी नहीं है. बंगाल के छात्र को तमिलनाडु के तिरुनेल्वेली सेंटर दिया गया है. ट्रेन में टिकट नहीं है. पश्चिम बंगाल के छात्र का सेंटर मुंबई दिया गया है. झांसी का छात्र हैदराबाद जाए और पश्चिम बंगाल का पुणे. पटना के मनीष को केरल के एरनाकुलम जाना होगा. जयपुर के छात्र को कोलकाता जाना होगा. गंगासागर के मेले के कारण कोलकाता जाने वाली ट्रेन में टिकट नहीं है. बंगाल के मुर्शिदाबाद का छात्र बेंगलुरू कैसे जाएगा. रेलमंत्री खुद अपनी टाइमलाइन पर यह सब देख सकते हैं.
मई 2016 में उनकी कोशिशें रंग लाईं और स्टार्टअप को गूगल के एक प्रोग्राम के तहत छह महीने की मेंटरशिप मिली। इडिकुला के लिए यह सपना सच होने जैसा था। उन्हें लगता है कि एक ऑनलाइन वेंचर शुरू करने का फैसला सही था, जहां विज्ञापनों से कमाई की काफी संभावनाएं हैं। ऑनलाइन टेक्नॉलजी-इनेबल्ड एक्सपेरिमेंटल लर्निंग प्लेटफॉर्म टैलंटस्प्रिंट के सीईओ और एमडी शांतनु पॉल बताते हैं कि ऑनलाइन जॉब्स या बिजनस आइडियाज स्टूडेंट्स की स्टडी के एरिया, इंटरेस्ट और एक्सपर्टाइज के हिसाब से उपलब्ध हैं। पॉल के मुताबिक, 'ऑनलाइन काम भारतीय छात्रों के लिए अहम है। जॉब मार्केट में अपनी रोजगार योग्यता और आकर्षण बढ़ाने का अहम जरिया है। इससे आपको अपने पैरों पर खड़ा होने का मौका मिलता है।'
इसके अलावा, विज्ञापन की नौकरी भी हो सकती है जो कि शुरुआत और ऑनलाइन कैरियर को छलांग लगाने का एक अच्छा तरीका हो सकती है। वे फ्रीलान्स प्रकार की नौकरियां हैं जो आप शुरू कर सकते हैं वे आपको किसी विशिष्ट समय की स्टाम्प में लॉग इन करने की आवश्यकता नहीं करते हैं, आप किसी भी समय बिना नियत समय पर ब्रेक के लिए जा सकते हैं, और आप एक मालिक के साथ काम नहीं करते हैं जो हमेशा आपकी पीठ के पीछे छिपता रहता है और आपके हर कदम को देख रहा है। आमतौर पर, आप अपनी गति से काम करते हैं
रेलमंत्री को अगर यह हिसाब तब भी समझ नहीं आता है, तो एक छात्र ने जो हिसाब भेजा है, वह दे देता हूं. बीकानेर से नागपुर जाने के लिए एक ही ट्रेन है, अणुव्रत एक्सप्रेस, जो हफ्ते में एक-दो दिन ही चलती है. एक तरफ से 26 घंटे का सफर है. दोनों तरफ का किराया मिलाकर टिकट पर सिर्फ 3,240 रुपये खर्च होंगे. 23 जनवरी को पहुंचने के लिए उसे 20 जनवरी को निकलना पड़ेगा, वापसी की ट्रेन 23 और 24 की नहीं है, तो नागपुर में दो दिन रुकना भी पड़ेगा. इस तरह एक परीक्षा देने में उसे सात दिन लगेंगे. 10,000 से अधिक रुपये खर्च हो जाएंगे. रेलमंत्री जी बताएं, एक छात्र को प्रयागराज से कर्नाटक के हुबली भेजने का क्या मतलब. 32 घंटे का सफर तय करना पड़ेगा. वह भी तब, जब आपकी ट्रेन समय से चली, जो चलती नहीं. राजस्थान के गंगानगर से किसी को केरल के कोच्चि में भेजने का क्या मतलब है. क्या इसी को ऑनलाइन इम्तिहान कहते हैं...?
सर्च इंजिन अनुकूलन सीखे: चाहे ऑनलाइन चुनें या आपके स्थानीय कॉलेज के द्वारा प्रदत्त कोर्स करें, ऑनलाइन जगत में स्वयं को स्थवित करने के लिए सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में ज्ञान होना अतिआवश्यक हैं। सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में जान कर आप अपने व्यवसाय को गूगल के सर्च इंजिन पर लोगो द्वारा खोजे जाने वाले संकेतशब्दो के आधार पर संभावित ग्राहकों का ध्यान ज्यादा प्रभावी तौर पर आकर्षित कर सकते हैं।
विशेषज्ञों से विचार विमर्श करें। यदि आपके किसी मित्र या सहकर्मी ने ऑनलाइन पैसे कमाने में सफलता हासिल की हैं, उनके ज्ञान और अनुभव का फायदा उठायें। पता करने की कोशिश करे कि किस चीज से उन्हें फायदा हुआ और क्या बाते नुकसान पहुँचा सकती हैं। आपके ऑनलाइन व्यापार क्षेत्र के बारे में ज्यादा से ज्यादा ज्ञान पाने की कोशिश करें ये आपके व्यापार में इजाफा करेगा।

यदि आप लिखने के शौकीन हैं और एक राइटर भी बनना चाहते हैं तो आपके लिए ऑनलाइन राइटिंग जॉब एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है क्योंकि इंटरनेट की दुनिया में बहुत सारे लोगों को रोजाना कंटेंट चाहिए होता है. जिसके लिए कंपनियां आपको हजारों रुपए तक पेय कर सकती हैं. इसके लिए आपको अपने पर्सनल नेटवर्क में बातचीत करने की आवश्यकता होगी या Google पर आकर सर्च करना होगा कि कौन सी कंपनियां ऑनलाइन राइटिंग जॉब प्रदान करती हैं फिर उसके बाद आप अपने ऑनलाइन राइटिंग के रेट फिक्स करके लिखना शुरु कर सकते हैं, यहां से आप इंटरनेट की मदद से बहुत सारे पैसे कमा सकते हैं.
एक ब्लॉग शुरू करने के तरीके के साथ ऑनलाइन बनाने की पहली रणनीति है Clickbank। आमतौर पर लोगों को बाजार में उपलब्ध कराई गई सबसे बड़ी और नवीनतम चीजों के बारे में नवीनतम जानकारी प्राप्त करने के लिए ब्लॉगों से परामर्श करना होगा। जब आप अपने ब्लॉग पर मजबूत जुनून और ऊर्जावान स्वर को उगलते हैं, तो आपके पास ऐसे अनुयायी होते हैं जो हमेशा उन चीज़ों पर विचार करते हैं जिन्हें आप खरीदने के योग्य होने की सलाह देते हैं
ऑनलाइन रहस्यमयी खरीददार बने (mystery shopper): बहुत से लोगो ने असल दुनिया में रहस्यमयी खरीददार के बारे में सुना होगा, लेकिन ऑनलाइन खरीददारी में भी अब यह तेजी से बढ़ने लगा है, जिन्हें ऑनलाइन ख़रीददारी करने के लिए भेजा जाता है। यदि आप इसमें नयी शुरुआत ही कर रहे हैं, तो आपको खरीददारी के लिए लगने वाली कीमत के लिए तैयार रहना होगा, क्षतिपूर्ति के लिए आपका योग्य रहस्यमयी खरीददार होना जरुरी हैं।
×