कई पेशेवर ऑनलाइन लोग हैं जो अपनी छुट्टी छोड़ कर साझा कर सकते हैं पैसे ऑनलाइन बनाने के तरीके अन्य लोगों के लिए, विशेष रूप से आम जनता जो माताओं को जोड़ती है ऐसी कई महिलाएं हैं जो काम करने वाली माताओं बनना चाहती हैं क्योंकि वे यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि वे अपने बच्चों के लिए मुकाबला करने में सक्षम हैं। ऐसे कुछ विकल्प हैं जो उनके लिए उपलब्ध हैं, जैसे लेखन और उसी समय लेखों और ब्लॉग पोस्टों के संपादन में।
माइक्रो जॉब ऐसी छोटी जॉब्स हैं जिनको कम्पलीट करने में मिनटों या सेकण्ड्स का समय लगता है। ऐसी बहुत  सी साइट्स हैं जो ऑनलाइन माइक्रो जॉब्स की सुविधा देती हैं। पेज शेयर करना, शोर्ट आर्टिकल लिखना, गूगल में कुछ सर्च करना, रेवेन्यु देना जैसे सैंकड़ों आसान कार्य इसके अंदर आते हैं।  ऐसी साइट्स पर रोजाना दो घंटे काम करके आप घर बैठ 8000 से 10000 रूपए प्रतिमाह कमा सकते हैं।

आजकल हर व्यक्ति के पास Smartphone और Internet की सुविधा उपलब्ध है। पिछले कुछ साल से भारत में इंटरनेट users की संख्या अत्यधिक तेजी से बढ़ी है। इसलिए लोगों में यह जानने की इच्छा अत्यधिक है, की इंटरनेट से ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए जाते हैं इसलिए वह Search करते हैं की How to Earn Money from internet in hindi?, घर बैठे इंटरनेट से पैसे कैसे कमाएँ, गूगल से पैसे कैसे कमाएँ, इंटरनेट से पैसे कैसे कमाएँ, इस पोस्ट में आपको इन सभी सवालों के जवाब आसानी से मिल जाएंगे इसलिए आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें।

बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर विवि (बीबीएयू) में वीसी प्रो. आरसी सोबती का ड्रीम प्रॉजेक्ट आंबेडकर भवन का निर्माण कार्य तीन साल के बाद पूरा हुआ। साथ ही कई साल से खाली पड़े पदों पर भर्तियां भी करवाई गईं। छात्रों को वाई-फाई की सुविधा भी इसी साल मिली। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में इस साल से छात्रों की शिकायत के निवारण के लिए कॉल सेंटर बनाने पर मुहर लगी। ऐसे में यह यूपी का पहला विवि भी बना जहां छात्रों की शिकायतों के लिए कॉल सेंटर बनाया गया। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अरबी-फारसी विश्वविद्यालय में जहां इस साल नए वीसी आए तो वहीं पीएचडी के दाखिलों को भी हरी झंडी मिली। इसी साल यहां की कार्यपरिषद भी शुरू हुई।
बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर विवि (बीबीएयू) में वीसी प्रो. आरसी सोबती का ड्रीम प्रॉजेक्ट आंबेडकर भवन का निर्माण कार्य तीन साल के बाद पूरा हुआ। साथ ही कई साल से खाली पड़े पदों पर भर्तियां भी करवाई गईं। छात्रों को वाई-फाई की सुविधा भी इसी साल मिली। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में इस साल से छात्रों की शिकायत के निवारण के लिए कॉल सेंटर बनाने पर मुहर लगी। ऐसे में यह यूपी का पहला विवि भी बना जहां छात्रों की शिकायतों के लिए कॉल सेंटर बनाया गया। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अरबी-फारसी विश्वविद्यालय में जहां इस साल नए वीसी आए तो वहीं पीएचडी के दाखिलों को भी हरी झंडी मिली। इसी साल यहां की कार्यपरिषद भी शुरू हुई।
आपका म्यूजिक बेचें: कुछ सालों पहले, रेडियोहेड ने अपना नवीनतम एलबम खुद की वेबसाइट पर बेचने का फैसला लिया और इससे उन्होंने अच्छी कमाई भी की। हाँ भले ही आपका कार्य रेडियोहेड के स्तर (फ़िलहाल) का नहीं होगा, लेकिन बहुत से छोटे, स्वतंत्र, और यहाँ तक की बड़े नामो ने भी इस तरीके पर काम किया हैं, और बिना किसी मध्य प्रबंधक के काफी अच्छी बिक्री करने में सफलता प्राप्त की हैं।

शिक्षा माफियों की पैठ और फर्जी कक्ष निरीक्षकों की तैनाती पर लगाम लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा की ओर से इस साल ऑनलाइन केंद्र बनाने का नया प्रयोग किया गया। वहीं सीबीएसई बोर्ड ने भी पारदर्शिता लाने के लिए हाई स्कूल के होम एग्जाम इसी साल से समाप्त कर दिए। अब हाईस्कूल में भी बोर्ड एग्जाम ही होंगे। इससे स्कूलों की ओर से किए जा रहे फर्जीवाड़े पर लगाम लगी। इसके अलावा सीआईएससीई बोर्ड ने इस बार मार्किंग का पैटर्न बदल दिया। ऐसे में 33 की जगह पासिंग मार्क्स अब 35 कर दिए हैं। सारी प्रतियोगी परीक्षाओं में आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया।
यू ट्युब सबसे बड़ी विडियो शेयरिंग वेबसाइट है, जो गूगल का ही एक हिस्सा है। यू ट्युब कमाने का एक बहुत बड़ा प्लेटफार्म है, यू ट्युब के जरिये सिर्फ विडियो अपलोड करके आप लाखों रूपए कम सकते हैं। इसके लिए आपको यू ट्युब चैनल बनाना होगा और इसमें आपको ओरिजनल विडियो अपलोड करनी होंगी, जैसे जैसे लोग आपकी अपलोड की हुई वीडियोस को देखेंगे उस से आपको कमाई होगी। इसमें आपको एड सेंस के जरिये भुगतान किया जाएगा, आप वीडियोस दिखाकर पैसा कम पाएँगे।

ऑनलाइन बुक राइटिंग – पहले जहाँ बुक लिखकर पब्लिश करवाना किसी टेढ़ी खीर जैसा मुश्किल लगता था वहीँ आज इंटरनेट के इस दौर में अगर आप अपनी बुक लिखना चाहते हैं तो बिना किसी खर्च के किसी भी ई बुक पब्लिशिंग वेबसाइट पर फ्री में अपनी ई-बुक पब्लिश करके ऑनलाइन बेच सकते हैं। अमेज़न, फ्लिपकार्ट, ईबे जैसी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ई -बुक्स को बड़ी आसानी से बेचा जा सकता है।
माइक्रो जॉब ऐसी छोटी जॉब्स हैं जिनको कम्पलीट करने में मिनटों या सेकण्ड्स का समय लगता है। ऐसी बहुत  सी साइट्स हैं जो ऑनलाइन माइक्रो जॉब्स की सुविधा देती हैं। पेज शेयर करना, शोर्ट आर्टिकल लिखना, गूगल में कुछ सर्च करना, रेवेन्यु देना जैसे सैंकड़ों आसान कार्य इसके अंदर आते हैं।  ऐसी साइट्स पर रोजाना दो घंटे काम करके आप घर बैठ 8000 से 10000 रूपए प्रतिमाह कमा सकते हैं।

ईएमआई शायद हमारी मासिक आय में से सबसे महत्वपूर्ण बहिर्वाह में से एक है और बोझ को कम करने के लिए हमेशा एक अच्छा विचार है! लेकिन पहले, क्या वास्तव में एक ईएमआई है? ईएमआई का मतलब इक्विटेड मंथली इंस्टालमेंट है। यह एक निश्चित राशि है जिसे आपको अपने बैंक / ऋणदाता को अपनी ऋण अवधि के पूरे कार्यकाल के लिए हर महीने, एक निश्चित तिथि पर भुगतान करना होगा, जब तक कि आपने देय ब्याज के साथ ऋण पूरी तरह से चुका नहीं दिया है। ऋण किसी भी उद्देश्य के लिए हो सकता है - आवास, ऑटो, सोना या व्यक्तिगत ऋण।

एफिलिएट मार्केटिंग – अमेज़न और फ्लिपकार्ट जैसी लगभग हर ई-कॉमर्स कंपनी अपना एफिलिएटेड प्रोग्राम चलाती है। एफिलिएट मार्केटिंग में अपने ब्लॉग, वेबसाइट जैसे ऑनलाइन स्थानों पर विभिन्न प्रकार के प्रोडक्ट्स को प्रमोट करना होता है। ऐसा करने के बाद, जब भी कोई यूजर आपके द्वारा प्रमोट किये गए लिंक पर क्लिक करके कोई प्रोडक्ट खरीदता है तो उस प्रोडक्ट के मूल्य का कुछ प्रतिशत आपको कमीशन के रूप में मिल जाता है|


कई कंपनियां डेटा एंट्री ट्रांसक्रिप्ट या ऑडियो डेटा लिखने जैसे कार्यों को आउटसोर्स करना चाहती हैं। यह उतना ही सरल है जितना कि आप उन्हें फाइलें भेजते हैं, और आप उनके सॉफ्टवेयर का उपयोग करके डेटा दर्ज करते हैं, या ऑडियो क्लिप को नोट करते हैं। छात्रों के लिए निवेश के बिना ऑनलाइन डेटा प्रविष्टि नौकरियां ऑनलाइन पैसे कमाने का सबसे आसान और सबसे किफायती तरीका है।
ऑनलाइन सर्वे भी ऑनलाइन पैसे कमाने का एक बहुत अच तरीका है। ऑनलाइन सर्वे में कम्पनियां अपने प्रोडक्ट के बारे में तथा अपनी सर्विस के बारे में आपका विचार जानने की कोशिश करती हैं, ताकि इसकी मदद से वो अपनी सेल्स को बाधा सकें। ऐसी कई मल्टीनेशनल कम्पनीज में Sign Up कर सकते हैं जो ऑनलाइन सर्वे की सुविधा दे रही हैं। एक बार ऑनलाइन कंपनी के सर्वे से जुड़ने के बाद कंपनी आपके ईमेल में सर्वे भेजेगी। कंपनी द्वारा दिए गए सर्वे को पूरा करने के बाद आप अपने पैसे कंपनी से ले सकते हैं। सिर्फ कुछ ही कंपनियां ऐसी हैं जो सर्वे की सुविधा देती हैं और उनके पैसे देती हैं। ऑनलाइन सर्च करने पर आपको ऐसी हजारों सर्वे साइट्स मिल जाएंगी, जो वास्तविक नहीं हैं, ऐसी साइट्स आपको रजिस्ट्रेशन अम्मौंत देने को कहेंगी।
एफिलिएट मार्केटर बनें: बिना किसी सामान को सहेजे किसी दूसरे के उत्पादों या सेवाओं का प्रचार कर पैसे कमाने का यह बहुत अच्छा तरीका हैं। एफिलिएट विज्ञापन सामान्यतः आपके वेबसाइट/ब्लॉग/पृष्ठ में लिंक द्वारा जुड़े रहते है (यह बहुत अच्छा तरीका है यदि आपके लेख मजबूत और सम्मोहक हैं, लेकिन यह ध्यान से किया जाना चाहिए ताकि विज्ञापन स्पैमी नहीं लगे, उत्पाद-प्लेसमेंट वीडियो (यह भी अच्छा तरीका हैं यदि आप मजाकिया या आपमें प्रदर्शन की प्रतिभा हैं), या बहुत कम बैनर विज्ञापन (कम प्रभावशील) क्योंकि ज्यादातर लोग इन्हें टाल देते हैं। यदि जरूरत है, तो आप बिना वेबसाइट के भी एफिलिएट मार्केटर बन सकते हैं (यू ट्यूब पर आपके एफिलिएट लिंक के साथ वीडियो पोस्ट करें)। कमीशन जंक्शन (Commission Junction) जैसी वेबसाइट पर आप संभावित उत्पाद और सेवाएँ देख सकते हैं।
×