यदि आप अभी कुछ समय से इंटरनेट का उपयोग कर रहे हैं, और आप ऑनलाइन पैसा बनाने का इरादा रखते हैं, तो आप निश्चित रूप से इसके बारे में सुना होगा Clickbank। यह एक ऐसी कंपनी है जो दोनों विक्रेताओं के साथ-साथ सहयोगियों को भी मदद कर सकती है। यदि आप क्या चाहते हैं तो किसी को अपने उत्पादों को बेचने में मदद करना है, तो यह कंपनी आपकी सहायता कर सकती है। यदि आप दूसरों को अपने आइटम को बढ़ावा देने और बेचने के लिए करना चाहते हैं, तो यह एक ऐसा मार्ग भी है जिसे लिया जा सकता है।
यह परामर्श वाले नौकरियों से अंशकालिक परियोजना के अवसरों को फ्रीलान्स लिखने से भिन्न हो सकता है जो विशेषज्ञता के अपने क्षेत्र की देखभाल करते हैं। इसके अलावा, आप सौदा ऑनलाइन बिक्री कर सकते हैं यदि आपके पास पुरानी सीडीएस या किताबें हैं जो आपको लगता है कि अगली पीढ़ी के छात्रों द्वारा उपयोग किया जा सकता है, तो आप अपने अतिरिक्त नकद तेजी से कमाई शुरू करने के लिए किसी भी ऑनलाइन बोली-प्रक्रिया वेब पृष्ठों पर नीलामी चला सकते हैं। दूसरी तरफ, उद्योग में बहुत सारी बड़ी लाइब्रेरी हैं जो आपको अपनी पुस्तकों को भी उन्हें बेचने की अनुमति दे सकती हैं।
एफिलिएट मार्केटिंग – अमेज़न और फ्लिपकार्ट जैसी लगभग हर ई-कॉमर्स कंपनी अपना एफिलिएटेड प्रोग्राम चलाती है। एफिलिएट मार्केटिंग में अपने ब्लॉग, वेबसाइट जैसे ऑनलाइन स्थानों पर विभिन्न प्रकार के प्रोडक्ट्स को प्रमोट करना होता है। ऐसा करने के बाद, जब भी कोई यूजर आपके द्वारा प्रमोट किये गए लिंक पर क्लिक करके कोई प्रोडक्ट खरीदता है तो उस प्रोडक्ट के मूल्य का कुछ प्रतिशत आपको कमीशन के रूप में मिल जाता है|
बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर विवि (बीबीएयू) में वीसी प्रो. आरसी सोबती का ड्रीम प्रॉजेक्ट आंबेडकर भवन का निर्माण कार्य तीन साल के बाद पूरा हुआ। साथ ही कई साल से खाली पड़े पदों पर भर्तियां भी करवाई गईं। छात्रों को वाई-फाई की सुविधा भी इसी साल मिली। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में इस साल से छात्रों की शिकायत के निवारण के लिए कॉल सेंटर बनाने पर मुहर लगी। ऐसे में यह यूपी का पहला विवि भी बना जहां छात्रों की शिकायतों के लिए कॉल सेंटर बनाया गया। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अरबी-फारसी विश्वविद्यालय में जहां इस साल नए वीसी आए तो वहीं पीएचडी के दाखिलों को भी हरी झंडी मिली। इसी साल यहां की कार्यपरिषद भी शुरू हुई।
सोमवार, जुलाई 2, 2012 समाज में लोगों को पता है कि इंटरनेट पर कई वेब पेज हैं जो उचित तरीके से तरीके का विज्ञापन करते हैं पैसा ऑनलाइन बना रहा है। ज्यादातर वेबसाइट्स के लिए, वे ग्राहकों को किसी भी चीज को बिना किसी शुल्क के अपने पृष्ठ पर एक खाता सेट अप करने की अनुमति दे सकते हैं। दूसरी ओर, कुछ लोग हैं जो एक महीने से महीने के आधार पर एक निश्चित शुल्क के लिए कहा गया सदस्यता या एक बार बड़ा समय हासिल कर सकते हैं।
बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर विवि (बीबीएयू) में वीसी प्रो. आरसी सोबती का ड्रीम प्रॉजेक्ट आंबेडकर भवन का निर्माण कार्य तीन साल के बाद पूरा हुआ। साथ ही कई साल से खाली पड़े पदों पर भर्तियां भी करवाई गईं। छात्रों को वाई-फाई की सुविधा भी इसी साल मिली। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में इस साल से छात्रों की शिकायत के निवारण के लिए कॉल सेंटर बनाने पर मुहर लगी। ऐसे में यह यूपी का पहला विवि भी बना जहां छात्रों की शिकायतों के लिए कॉल सेंटर बनाया गया। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अरबी-फारसी विश्वविद्यालय में जहां इस साल नए वीसी आए तो वहीं पीएचडी के दाखिलों को भी हरी झंडी मिली। इसी साल यहां की कार्यपरिषद भी शुरू हुई।
मुफ्त में सामान खरीदें / खरीदें, फिर उसे पैसे के लिए बेच दें। यह निश्चित रूप से क्रेगलिस्ट पर काम कर सकता है, क्योंकि लोग लगातार सस्ते में बेच रहे हैं या मुफ्त की चीजें दे रहे हैं जो पूरी तरह से ठीक हैं या टूटी हुई हैं और उन्हें ठीक किया जा सकता है। अक्सर, लोग सबसे बड़ी वस्तुओं को केवल इसलिए छोड़ देते हैं क्योंकि वे उन्हें स्थानांतरित करने का प्रयास नहीं करना चाहते हैं। यदि आपके या आपके दोस्त के पास ट्रक है, तो आप क्रेगलिस्ट के साथ पैसा बनाने के लिए एक महान लाभ हैं।
एप्प बेचें: करोड़ो लोगो के इस व्यापार स्थान में, ₹50-100 प्रति बिक्री भी आपकी कमाई को बहुत ऊपर तक ले जा सकती हैं। यदि आपके पास कोई शानदार विचार हैं लेकिन आप प्रोग्रामिंग के बारे में नही जानते, तो काम के लिए प्रोग्रामर को किराये पर रखना भी एक अच्छा विकल्प हैं। समान तरह की एप्प के बारे में भी खोजे और समीक्षा करें, और आपके प्रतिद्वंधियो से एक कदम आगे रहने के रास्ते खोजें, और जिन मोबाइल डिवाइस को आप एप्प बेचने जा रहे हैं उनकी कंपनी के नियमो का पालन करें।
आज की इस ऑनलाइन लाइफस्टाइल में इंटरनेट यूजर्स की संख्या बहुत ही तेज़ी से बढ़ी है और ऑनलाइन शॉपिंग से लेकर ऑनलाइन बिजनेस करने तक के ढेरों विकल्प अब हमारे सामने आ गये हैं। इसका सबसे बड़ा फायदा ये है कि अगर आपके पास एक यूनिक आईडिया है तो आप अपना ऑनलाइन बिजनेस बड़ी आसानी से शुरू कर सकते हैं और इस ऑनलाइन बिजनेस में कम इन्वेस्टमेंट के बावजूद भी आप कुछ ही समय में एक अच्छा अमाउंट कमा सकते हैं। ऐसे में आज बात करते हैं ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं और इसके लिए कौनसे विकल्प मौजूद हैं।
आज की इस ऑनलाइन लाइफस्टाइल में इंटरनेट यूजर्स की संख्या बहुत ही तेज़ी से बढ़ी है और ऑनलाइन शॉपिंग से लेकर ऑनलाइन बिजनेस करने तक के ढेरों विकल्प अब हमारे सामने आ गये हैं। इसका सबसे बड़ा फायदा ये है कि अगर आपके पास एक यूनिक आईडिया है तो आप अपना ऑनलाइन बिजनेस बड़ी आसानी से शुरू कर सकते हैं और इस ऑनलाइन बिजनेस में कम इन्वेस्टमेंट के बावजूद भी आप कुछ ही समय में एक अच्छा अमाउंट कमा सकते हैं। ऐसे में आज बात करते हैं ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं और इसके लिए कौनसे विकल्प मौजूद हैं।

प्रतियोगिताओं में भाग लें: हालाँकि इसमें आपको जीते बिना पैसे नही मिलंगे। आपके कार्यक्षेत्र जैसे फोटोग्राफी, लोगो बनाना, बैकग्राउंड निर्माण में मौजूद "मुफ्त" प्रतिगिताओं की खोज करें और आपकी प्रतियों को ज्यादा से ज्यादा जगहों पर सबमिट करें। यह सब करने में एक पूरा दिन भी लग सकता हैं, लेकिन उनमें से कुछ सफल भी हो सकते है (या, शायद, बहुत सारे भी)। इससे मिलने वाला अनुभव आपको अन्य नए रचनात्मक रास्तो की खोज भी करा सकता है।
×