माइक्रो जॉब ऐसी छोटी जॉब्स हैं जिनको कम्पलीट करने में मिनटों या सेकण्ड्स का समय लगता है। ऐसी बहुत  सी साइट्स हैं जो ऑनलाइन माइक्रो जॉब्स की सुविधा देती हैं। पेज शेयर करना, शोर्ट आर्टिकल लिखना, गूगल में कुछ सर्च करना, रेवेन्यु देना जैसे सैंकड़ों आसान कार्य इसके अंदर आते हैं।  ऐसी साइट्स पर रोजाना दो घंटे काम करके आप घर बैठ 8000 से 10000 रूपए प्रतिमाह कमा सकते हैं।

वर्तमान समय में यूट्यूब (YouTube) को कोई ना जाने ऐसा शायद ही कोई मिलेगा। यूट्यूब जैसी लोकप्रिय वेबसाइट से आप लाखो रुपये की कमाई कर सकते है। आज भी लाखो लोग यूट्यूब से अच्छी इनकम प्राप्त कर है। इस वेबसाइट पर भी आपको कोई भी रजिस्ट्रेशन शुल्क, फी, आदि इन्वेस्ट करने की कोई जरुरत नहीं है। बिना निवेश किये आप इस वेबसाइट से हजारो रुपये की कमाई कर सकते है। Read More

एक काल्पनिक स्टोर बनाएँ: मानें या ना मानें, बहुत से विक्रेता अपने ऑनलाइन खेलों के माध्यम से काल्पनिक चीजें बेच कर असली दुनिया का पैसा बना रहे हैं। आप खुद का अवतार बना कर और दुकान बनाने के बाद, आप दूसरे खिलाड़ियों को सामान बेच सकते है (या केवल आपके असल जीनव व्यवसाय के विज्ञापन दिखा सकते है)। हालाँकि इसके लिए आपको पहले ऐसा खेल खोजना होगा जो इसकी अनुमति देता हैं और दुकान लगाने का खर्च भी वहन करती हैं, लेकिन एक बार यह सब सेट हो जायें, तब आपकी पहुँच विभिन्न उम्र वर्ग और बहुत सारे देशों के लोगो तक हो जायेगी। MMOPGs (बड़े पैमाने पर, मल्टीप्लेयर ऑनलाइन भूमिका निभाने वाले खेल) यह करने के लिए सबसे बेहतर विकल्प हैं।


इंटरनेट के जरिए योगा के बेसिक्स क्लियर कीजिए और ऑनलाइन योगा क्लासेज का बिजनेस शुरू कीजिए. इंटरनेट के साथ-साथ आप योगा एक्सपर्ट्स की किताब का भी सहारा ले सकते हैं. आज कल लोग ऑनलाइन योगा को ढूंढकर घर पर एक्सरसाइज करना चाहते हैं. ऐसे में आप अपनी क्लासेज से उन्हें स्काइप या सीडी के जरिए अपना इंस्ट्रक्टिव प्रोग्राम भेज सकते हैं. इससे लोग आपसे जुड़ेंगे और आप घर बैठे पैसा कमा सकते हैं.
दोस्तों, आप ये तीनो काम करके घर बैठे हजारो रुपये की कमाई कर सकते है, आप जैसे हजारो लोग ऐसे काम करके अच्छी कमाई कर रहे है, आप भी कर सकते है। इन कार्यों के लिए आपको किसी भी तरह का निवेश करने की आवश्यकता नहीं है, आप बिना निवेश यह काम करके हर महीने हजारो रुपये आसानी से कमा सकते है। हालांकि नए काम की शुरुवात में काम समजने में आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है, लेकिन आगे चलके आप खुद इनके मास्टर बन जायेंगे।
इंटरनेट मार्केटिंग – इंटरनेट के इस ज़माने में मार्केटिंग में भी इंटरनेट की मदद की ज़रूरत पड़ती है। ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग या इंटरनेट मार्केटिंग एक बहुत बड़ा एरिया बन गया है क्योंकि इंटरनेट पर मौजूद हर एक कंपनी या वेबसाइट को इस इंटरनेट मार्केटिंग का सहारा लेना ही पड़ता है। प्रोडक्ट्स, सर्विसेज, वेबसाइट, एप्प की ऑनलाइन मार्केटिंग का तरीका है इंटरनेट मार्केटिंग, जिसे बहुत आसानी से और कम समय में सीखा जा सकता है।
सर्वेक्षण लेने के दौरान आप अमीर नहीं होंगे, यदि आप क्रिस सर्वेक्षण पर मेरी सलाह का पालन करते हैं, तो यह एक छात्र के लिए एक अच्छी राशि बना देगा। खासकर जब आप समझते हैं कि आप आज जीतना शुरू कर सकते हैं और आपको वहां जाने के लिए कंप्यूटर या स्मार्ट फोन की जरूरत है। उपयोग में आसानी के साथ, और वह राशि जिसे आप अपनी मासिक आय में जोड़ सकते हैं, मेरा मानना ​​है कि छात्रों के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन नौकरियों में से एक होने के लिए सर्वेक्षण करना। साइड अर्जित करने के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन सर्वेक्षण वेबसाइटों पर मेरे पिछले लेख पर एक नज़र डालें।
सर्च इंजिन अनुकूलन सीखे: चाहे ऑनलाइन चुनें या आपके स्थानीय कॉलेज के द्वारा प्रदत्त कोर्स करें, ऑनलाइन जगत में स्वयं को स्थवित करने के लिए सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में ज्ञान होना अतिआवश्यक हैं। सर्च इंजिन अनुकूलन (SEO) के बारे में जान कर आप अपने व्यवसाय को गूगल के सर्च इंजिन पर लोगो द्वारा खोजे जाने वाले संकेतशब्दो के आधार पर संभावित ग्राहकों का ध्यान ज्यादा प्रभावी तौर पर आकर्षित कर सकते हैं।
एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की शुरुआतलखनऊ विश्वविद्यालय (एलयू) ने छात्रों को विभागों के चक्कर न लगाने पड़े, इसके लिए यूनीक आईडी पोर्टल योजना की शुरुआत की। अब छात्रों को इस पोर्टल की सहायता से एक लॉग इन से सारी जानकारी मिलेगी। इसके अलावा शिकायत के लिए भी पोर्टल लॉन्च किया गया। एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की भी शुरुआत की गई, जिसकी पहली ही काउंसलिंग में सीटें भी फुल हो गईं। छात्रों को दीक्षांत में सिक्यॉरिटी फीचर वाली डिग्री और मार्कशीट दी गई। वहीं बीएलईडी का नया कोर्स भी सम्बद्ध कॉलेजों में शुरू किया गया।
दोस्तों, आप ये तीनो काम करके घर बैठे हजारो रुपये की कमाई कर सकते है, आप जैसे हजारो लोग ऐसे काम करके अच्छी कमाई कर रहे है, आप भी कर सकते है। इन कार्यों के लिए आपको किसी भी तरह का निवेश करने की आवश्यकता नहीं है, आप बिना निवेश यह काम करके हर महीने हजारो रुपये आसानी से कमा सकते है। हालांकि नए काम की शुरुवात में काम समजने में आपको थोड़ी परेशानी हो सकती है, लेकिन आगे चलके आप खुद इनके मास्टर बन जायेंगे।
इसलिए मेरा तर्क यह है कि रेलमंत्री प्रचार पर कम ध्यान दें और काम पर ज्यादा. रेल बोर्ड से पूछें कि गरीब और साधारण परिवार के छात्रों को 2,000 किलोमीटर भेजने का क्या तुक है. किस तरह से यह ऑनलाइन परीक्षा है, जिसके लिए किसी को 35 घंटे, तो किसी को 40 घंटे की यात्रा करनी पड़ रही है. बेपरवाही की भी हद होती है. अनगिनत महापुरुषों की जयंती और पुण्यतिथि पर ट्वीट करने वाले रेलमंत्री को इन छात्रों की समस्या पर ट्वीट करना चाहिए और समाधान निकालना चाहिए.
जब आपके पास एक वेबसाइट है जो विशेष वस्तुओं की समीक्षा करता है, तो आप उन चीज़ों पर पैसा बनाने के लिए क्लिकबैंक का लाभ ले सकते हैं जो आप करते हैं क्लिकबैंक का उपयोग करके उन वस्तुओं की समीक्षा देकर, जिन्हें आप क्लिकबैंक का उपयोग करना चाहते हैं, आप लोगों के लिए जगह बना रहे हैं ताकि वे यह जान सकें कि उनका पैसा कैसे खर्च किया जाना चाहिए। इस रणनीति में सफलता की कुंजी, वास्तविक समीक्षाएं तैयार कर रही है जो पाठकों के साथ विश्वास पैदा कर सकती है।

मई 2016 में उनकी कोशिशें रंग लाईं और स्टार्टअप को गूगल के एक प्रोग्राम के तहत छह महीने की मेंटरशिप मिली। इडिकुला के लिए यह सपना सच होने जैसा था। उन्हें लगता है कि एक ऑनलाइन वेंचर शुरू करने का फैसला सही था, जहां विज्ञापनों से कमाई की काफी संभावनाएं हैं। ऑनलाइन टेक्नॉलजी-इनेबल्ड एक्सपेरिमेंटल लर्निंग प्लेटफॉर्म टैलंटस्प्रिंट के सीईओ और एमडी शांतनु पॉल बताते हैं कि ऑनलाइन जॉब्स या बिजनस आइडियाज स्टूडेंट्स की स्टडी के एरिया, इंटरेस्ट और एक्सपर्टाइज के हिसाब से उपलब्ध हैं। पॉल के मुताबिक, 'ऑनलाइन काम भारतीय छात्रों के लिए अहम है। जॉब मार्केट में अपनी रोजगार योग्यता और आकर्षण बढ़ाने का अहम जरिया है। इससे आपको अपने पैरों पर खड़ा होने का मौका मिलता है।'
ऐसे बहुत से लोग हैं जो लिखने में रूचि रखते हैं, यह ऑनलाइन जॉब उनके लिए है जिनकी रूचि लिखने में है। इस समय ऑनलाइन राइटिंग जॉब्स बहुत पोपुलर हो रही हैं। इन्टरनेट की हर वेबसाइट को अपडेट करने के लिए लगातार कंटेंट की ज़रूरत होती है। प्रत्येक आर्टिकल के लिए आपको 250 रूपए से 1000 रूपए मिल सकते हैं, आपके आर्टिकल की लम्बाई पर निर्भर करता है की आपको लिखे गये कंटेंट के कितने पैसे मिलेंगे। ऐसी कई साइट्स हैं जहाँ आप ऑनलाइन राइटिंग जॉब्स ढूंढ सकते हैं , अगर आपको इस जॉब के बारे में अधिक जानकारी नहीं है तो और आप सीखना चाहते हैं तो आप ब्लॉग को भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप लिखने में अच्छे हैं तो आप घर बैठे इस जॉब को करके पैसा कमा सकते हैं।

आपको कई ऐसी वेबसाइट मिलेंगी जो आपको घर बैठे  एडवरटाइसमेंट पढने के पैसे देंगी, ये ऑनलाइन पैसा कमाने का सबसे आसान तरीका है। एडवरटाइसमेंट  इस समय दुनिया के सबसे बड़े व्यापारों में से एक है। ऐसी वेबसाइट का उद्देश्य अपने शब्दों को लोगों में पहुँचाना होता है। ऐसी कई वेबसाइट हैं जो आपको अपनी एड को पढने के लिए पैसा देने को तैयार हैं। ऐसी वेबसाइट में आप Sign Up करके उनकी एड्स (Advertisement) पढ़कर पैसा कम सकते हैं।बहुत सी साइट्स तो ऐसी हैं जो आपके मोबाइल पर SMS के जरिये AD भेजती हैं, और आपको आपके मोबाइल में AD पढने के पैसे भी देती हैं। इस जॉब को तो घर बैठे कोई भी महिला भी कर सकती है, रोजाना आप जितनी AD देखेंगे, उतना पैसा कम सकते हैं।  
अभी तक भले ही आप अपने आइडियाज को लांच करने में झिझक महसूस करते आये हों लेकिन अब आप जान चुके हैं कि ऑनलाइन बिज़नेस वो ऑप्शन है जिसमें आपको बहुत ज्यादा इन्वेस्ट करने की जरुरत नहीं है। थोड़ा पैसा और थोड़ा समय इन्वेस्ट करके भी आप इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं और अपने यूनिक आइडियाज और क्रिएटिव टैलेंट के दम पर आप इस बिजनेस को किस मुकाम पर ले जा सकते हैं, ये तो आपके अपने हाथ में है।

बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर विवि (बीबीएयू) में वीसी प्रो. आरसी सोबती का ड्रीम प्रॉजेक्ट आंबेडकर भवन का निर्माण कार्य तीन साल के बाद पूरा हुआ। साथ ही कई साल से खाली पड़े पदों पर भर्तियां भी करवाई गईं। छात्रों को वाई-फाई की सुविधा भी इसी साल मिली। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में इस साल से छात्रों की शिकायत के निवारण के लिए कॉल सेंटर बनाने पर मुहर लगी। ऐसे में यह यूपी का पहला विवि भी बना जहां छात्रों की शिकायतों के लिए कॉल सेंटर बनाया गया। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अरबी-फारसी विश्वविद्यालय में जहां इस साल नए वीसी आए तो वहीं पीएचडी के दाखिलों को भी हरी झंडी मिली। इसी साल यहां की कार्यपरिषद भी शुरू हुई।
प्राथमिक वार्तालाप के बाद भी ग्राहकों से जुड़े रहें। क्योंकि आप अपने ग्राहकों से आमने सामने नही मिल पा रहे हैं, अतः प्राथमिक बातचीत के बाद आपको उनसे लगातार जुड़े रहना चाहिए (लेकिन यह उनके लिए परेशानी का सबब भी नही बनना चाहिए)। ग्राहक के साथ शुरूआती वार्तालाप के कुछ समय पश्चात आप उन्हें इस वार्तालाप के बारे में याद दिलाने के लिए धन्यवाद ईमेल लिख सकते है, साथ ही उन्हें अतिरिक्त सवाल पुछने के लिए भी कह सकते हैं साथ ही आपके संभावित ग्राहक को आपके द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवा के बारे में अपने उत्साह को बता सकते है।
×