यदि आप फोटोग्राफी में अच्छे हैं, या अपने सेल फोन कैमरे के साथ बहुत चालाक हैं, तो आप अपनी तस्वीरों के लिए पैसे कमा सकते हैं। जिस तरह से यह काम करता है वह यह है कि आप एक खाता बनाते हैं और अपनी तस्वीरें नीचे सूचीबद्ध साइटों में से एक पर अपलोड करते हैं। लोग तस्वीरों का उपयोग करने के अधिकार खरीदने के लिए इन साइटों पर आते हैं और आपको डाउनलोड करने के लिए भुगतान किया जाता है। इतना सरल है।
वर्तमान समय में यूट्यूब (YouTube) को कोई ना जाने ऐसा शायद ही कोई मिलेगा। यूट्यूब जैसी लोकप्रिय वेबसाइट से आप लाखो रुपये की कमाई कर सकते है। आज भी लाखो लोग यूट्यूब से अच्छी इनकम प्राप्त कर है। इस वेबसाइट पर भी आपको कोई भी रजिस्ट्रेशन शुल्क, फी, आदि इन्वेस्ट करने की कोई जरुरत नहीं है। बिना निवेश किये आप इस वेबसाइट से हजारो रुपये की कमाई कर सकते है। Read More
Earnkaro के साथ आप बन सकते हैं अमेज़न एफिलिएट और बिना किसी झंझट के ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं। Earnkaro पर साइन अप करें और पैसे कमाना शुरू कर दें। कोई भी एक या अनेक उत्पादों के लिए लिंक बनाइए और भेज दीजिए अपने सोशल प्लेटफॉर्म्स पर। आपके लिंक द्वारा की गयी हर खरीदारी पर आपको लाभ मिलता है। यह बहुत आसान है। अमेज़न के लाभ दर देखिए और जानिए आप कितना कमा सकते हैं।
यू ट्युब सबसे बड़ी विडियो शेयरिंग वेबसाइट है, जो गूगल का ही एक हिस्सा है। यू ट्युब कमाने का एक बहुत बड़ा प्लेटफार्म है, यू ट्युब के जरिये सिर्फ विडियो अपलोड करके आप लाखों रूपए कम सकते हैं। इसके लिए आपको यू ट्युब चैनल बनाना होगा और इसमें आपको ओरिजनल विडियो अपलोड करनी होंगी, जैसे जैसे लोग आपकी अपलोड की हुई वीडियोस को देखेंगे उस से आपको कमाई होगी। इसमें आपको एड सेंस के जरिये भुगतान किया जाएगा, आप वीडियोस दिखाकर पैसा कम पाएँगे।
आपके द्वारा ऑनलाइन व्यापार पर व्यतीत किये जा सकने वाले समय का मूल्यांकन करें। क्या आप घर में दो बच्चों और माँ के साथ रहते हैं और उनके स्कूल और घर-खर्च का व्यय भी आपको करना पड़ता हैं या आप अकेले ही रहते है? कितना समय आप आपके ऑनलाइन व्यवसाय को दे सकते हैं उसकी पहचान करें और उससे आपकी मासिक वांछित आमदनी से गणना करे। कुछ व्यवसाय विशेष में शुरुआती महीनों अतिरिक्त घण्टे कार्य करना पड़ सकता हैं, जैसे यदि आप ग्राहकों की सूची बना रहे हैं।
इसलिए मेरा तर्क यह है कि रेलमंत्री प्रचार पर कम ध्यान दें और काम पर ज्यादा. रेल बोर्ड से पूछें कि गरीब और साधारण परिवार के छात्रों को 2,000 किलोमीटर भेजने का क्या तुक है. किस तरह से यह ऑनलाइन परीक्षा है, जिसके लिए किसी को 35 घंटे, तो किसी को 40 घंटे की यात्रा करनी पड़ रही है. बेपरवाही की भी हद होती है. अनगिनत महापुरुषों की जयंती और पुण्यतिथि पर ट्वीट करने वाले रेलमंत्री को इन छात्रों की समस्या पर ट्वीट करना चाहिए और समाधान निकालना चाहिए.
प्रतियोगिताओं में भाग लें: हालाँकि इसमें आपको जीते बिना पैसे नही मिलंगे। आपके कार्यक्षेत्र जैसे फोटोग्राफी, लोगो बनाना, बैकग्राउंड निर्माण में मौजूद "मुफ्त" प्रतिगिताओं की खोज करें और आपकी प्रतियों को ज्यादा से ज्यादा जगहों पर सबमिट करें। यह सब करने में एक पूरा दिन भी लग सकता हैं, लेकिन उनमें से कुछ सफल भी हो सकते है (या, शायद, बहुत सारे भी)। इससे मिलने वाला अनुभव आपको अन्य नए रचनात्मक रास्तो की खोज भी करा सकता है।
×