यदि आपके पास कोई ऐसा विषय है जो आपकी रुचि या रुचि रखता है, तो आप एक ऑनलाइन ब्लॉग शुरू कर सकते हैं। आप wordpress.org या wordpress.com पर जा सकते हैं, और मिनटों में एक ब्लॉग शुरू कर सकते हैं। ब्लॉग के साथ पैसे कमाने के सबसे आसान तरीकों में से एक यह है कि आप अपने ब्लॉग पर विज्ञापन दें या अपने पसंदीदा वीडियो गेम, किताबें, या संगीत से संबंधित उत्पादों की बिक्री करें।
एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की शुरुआतलखनऊ विश्वविद्यालय (एलयू) ने छात्रों को विभागों के चक्कर न लगाने पड़े, इसके लिए यूनीक आईडी पोर्टल योजना की शुरुआत की। अब छात्रों को इस पोर्टल की सहायता से एक लॉग इन से सारी जानकारी मिलेगी। इसके अलावा शिकायत के लिए भी पोर्टल लॉन्च किया गया। एलयू में इंजिनियरिंग फैकल्टी की भी शुरुआत की गई, जिसकी पहली ही काउंसलिंग में सीटें भी फुल हो गईं। छात्रों को दीक्षांत में सिक्यॉरिटी फीचर वाली डिग्री और मार्कशीट दी गई। वहीं बीएलईडी का नया कोर्स भी सम्बद्ध कॉलेजों में शुरू किया गया।
ऑनलाइन सामान बेचना – अगर आप किसी प्रोडक्ट को बनाने में महारत रखते हैं और आपको सिर्फ ऐसे प्लेटफार्म की जरुरत है जहाँ आपके प्रोडक्ट को लाखों लोग देख सके और खरीद सके तो इसके लिए आप ई-कॉमर्स वेबसाइट पर ऑनलाइन सेलर के रूप में अपने प्रोडक्ट्स बेच सकते हैं। ऐसा करने पर आप बिना खर्च के, लाखों लोगों तक अपने प्रोडक्ट्स की पहुँच बना पाएंगे और अपने प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन बेचकर काफी अच्छा पैसा कमा सकेंगे।
बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर विवि (बीबीएयू) में वीसी प्रो. आरसी सोबती का ड्रीम प्रॉजेक्ट आंबेडकर भवन का निर्माण कार्य तीन साल के बाद पूरा हुआ। साथ ही कई साल से खाली पड़े पदों पर भर्तियां भी करवाई गईं। छात्रों को वाई-फाई की सुविधा भी इसी साल मिली। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) में इस साल से छात्रों की शिकायत के निवारण के लिए कॉल सेंटर बनाने पर मुहर लगी। ऐसे में यह यूपी का पहला विवि भी बना जहां छात्रों की शिकायतों के लिए कॉल सेंटर बनाया गया। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अरबी-फारसी विश्वविद्यालय में जहां इस साल नए वीसी आए तो वहीं पीएचडी के दाखिलों को भी हरी झंडी मिली। इसी साल यहां की कार्यपरिषद भी शुरू हुई।
अगस्त, 2018 में खुद रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ही ट्वीट किया था कि 74 फीसदी छात्र परीक्षा में शामिल हुए. यानी 47.56 लाख छात्रों में से 26 प्रतिशत परीक्षा देने से वंचित रह गए. इस तरह बिना इम्तिहान दिए ही 12 लाख से अधिक छात्र बाहर हो गए. जब पहले चरण की परीक्षा का रिज़ल्ट आया, तो 12 लाख छात्र ही दूसरे चरण के लिए चुने गए. अब जब संख्या छोटी हो गई, तो इनके सेंटर तो राज्य के भीतर दिए जा सकते थे. अगर नकल गिरोह से बचाने का तर्क है, तो यह बेतुका है, क्योंकि आजकल ऐसे गिरोह अखिल भारतीय स्तर पर चल रहे हैं, इसलिए सरकार को अपने सेंटर की निगरानी बेहतर करनी चाहिए, न कि छात्रों को 2,000 किलोमीटर दूर भेजकर परेशान करना चाहिए.
भारत दुनिया का अनोखा देश हैं, जहां रेलवे की ऑनलाइन परीक्षा देने के लिए किसी को 26 घंटे की रेलयात्रा करनी पड़ती है. इस महीने 21, 22 और 23 जनवरी को सहायक लोको पायलट और टेक्नीशियन के 64,317 पदों के लिए दूसरे चरण की परीक्षा होनी है. 10 दिन पहले छात्रों के सेंटरों की लिस्ट जारी की गई है. छात्रों के सेंटर 1,500 से 2,000 किलोमीटर दूर दिए गए हैं. प्रधानमंत्री के ट्वीट को री-ट्वीट करने में व्यस्त रेलमंत्री को अपनी ही टाइमलाइन पर आ रहे ऐसे अनेक मैसेजों को नोट करना चाहिए और समाधान करना चाहिए. बहुत से साधारण और किसान परिवारों के छात्रों के सामने संकट आ गया है कि इम्तिहान देने के लिए वे 10,000-20,000 रुपये कहां से ख़र्च करें.
Earnkaro के साथ आप बन सकते हैं अमेज़न एफिलिएट और बिना किसी झंझट के ऑनलाइन पैसे कमा सकते हैं। Earnkaro पर साइन अप करें और पैसे कमाना शुरू कर दें। कोई भी एक या अनेक उत्पादों के लिए लिंक बनाइए और भेज दीजिए अपने सोशल प्लेटफॉर्म्स पर। आपके लिंक द्वारा की गयी हर खरीदारी पर आपको लाभ मिलता है। यह बहुत आसान है। अमेज़न के लाभ दर देखिए और जानिए आप कितना कमा सकते हैं।

ऑनलाइन सर्वेक्षण लेने के साथ, आपको अपनी राय देने के लिए भुगतान किया जाता है। बाजार अनुसंधान कंपनियां आपकी प्रतिक्रिया का उपयोग उत्पादों या सेवाओं पर प्रतिक्रिया प्राप्त करने, नए उत्पाद या सेवाएं बनाने, या विभिन्न प्रकार के मुद्दों पर जनता की राय प्राप्त करने के लिए करती हैं। इन साइटों के भीतर पैसा बनाने के अन्य तरीके भी हैं। शुरू करने के लिए, आप बिना निवेश के ऑनलाइन कमाई के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑनलाइन सर्वेक्षण पोर्टलों की मेरी सूची से परामर्श कर सकते हैं।
भारत दुनिया का अनोखा देश हैं, जहां रेलवे की ऑनलाइन परीक्षा देने के लिए किसी को 26 घंटे की रेलयात्रा करनी पड़ती है. इस महीने 21, 22 और 23 जनवरी को सहायक लोको पायलट और टेक्नीशियन के 64,317 पदों के लिए दूसरे चरण की परीक्षा होनी है. 10 दिन पहले छात्रों के सेंटरों की लिस्ट जारी की गई है. छात्रों के सेंटर 1,500 से 2,000 किलोमीटर दूर दिए गए हैं. प्रधानमंत्री के ट्वीट को री-ट्वीट करने में व्यस्त रेलमंत्री को अपनी ही टाइमलाइन पर आ रहे ऐसे अनेक मैसेजों को नोट करना चाहिए और समाधान करना चाहिए. बहुत से साधारण और किसान परिवारों के छात्रों के सामने संकट आ गया है कि इम्तिहान देने के लिए वे 10,000-20,000 रुपये कहां से ख़र्च करें.
यदि आप college (student) में पढनें वाले छात्र है और part time online पैसे कमाने के लिए कोई तरीका ढूंढ रहे है जिससे आप घर बैठकर ऑनलाइन अपनी पढाई के साथ साथ कुछ पैसे बना सको और अपना खर्चा निपटा सको तो आप बिलकुल सही जगह पर है, यहाँ मैं students के लिए full time या part time काम (job) करके online पैसे कमाने के कुछ तरीके बता रहा हु जिनसे एक college छात्र online अपनी study के साथ आसानी से पैसे बना सकता है। तो, अगर आप एक student है और अपने लिए कोई ऐसा काम तलाश कर रहे है जिससे आप online पैसे कमा सकते है तो आप इस post को पढ़ सकते है इस post में college students के लिए online पैसे कमाने के कई आसान तरीके बताए गए है।
इंटरनेट के जरिए योगा के बेसिक्स क्लियर कीजिए और ऑनलाइन योगा क्लासेज का बिजनेस शुरू कीजिए. इंटरनेट के साथ-साथ आप योगा एक्सपर्ट्स की किताब का भी सहारा ले सकते हैं. आज कल लोग ऑनलाइन योगा को ढूंढकर घर पर एक्सरसाइज करना चाहते हैं. ऐसे में आप अपनी क्लासेज से उन्हें स्काइप या सीडी के जरिए अपना इंस्ट्रक्टिव प्रोग्राम भेज सकते हैं. इससे लोग आपसे जुड़ेंगे और आप घर बैठे पैसा कमा सकते हैं.
नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका सक्सेस इन हिंदी के मंच पर इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे हैं कैसे आप इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमा सकते हैं वो भी बिना किसी इन्वेस्टमेंट के, वैसे तो इंटरनेट की दुनिया से पैसे कमाने के तरीकों के बारे में बहुत सारे लोग पहले से ही जानते हैं किन्तु ऐसे अभी बहुत सारे लोग हैं जिन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं है. यह पोस्ट हमने आज उन्हीं लोगों के लिए लिखी है जो इंटरनेट की दुनिया में पैसे कमाना चाहते हैं और अभी उनके पास जानकारी नहीं है की कैसे कमाए ऑनलाइन पैसा.
वेबिनार (webinar) मार्केटिंग करें: यह साधारण ऑनलाइन सेमिनार मार्केटिंग हैं – वहीँ यह असल सेमिनार बनाने से काफी सस्ता हैं और इसे बार बार करने की जरूरत भी नहीं होती हैं। यदि किसी विषय के बारे में आपको लिखने का अधिकार हैं जिनके बारे में लोग आपको कीमत चुका कर सीखना चाहते है, पेशेवर जगह पर आप खुद को विषय के बारे में बताते हुए रिकॉर्ड करे (परंपरागत रूप से किसी कॉन्फ्रेंस कमरे में, जो आपके विषय पर निर्भर करता है) इसे अपनी वेबसाइट पर लगाएँ और विज्ञापन करें।
×