विशेषज्ञों से विचार विमर्श करें। यदि आपके किसी मित्र या सहकर्मी ने ऑनलाइन पैसे कमाने में सफलता हासिल की हैं, उनके ज्ञान और अनुभव का फायदा उठायें। पता करने की कोशिश करे कि किस चीज से उन्हें फायदा हुआ और क्या बाते नुकसान पहुँचा सकती हैं। आपके ऑनलाइन व्यापार क्षेत्र के बारे में ज्यादा से ज्यादा ज्ञान पाने की कोशिश करें ये आपके व्यापार में इजाफा करेगा।
काउंसलिंग बिजनेस में अच्छा स्कोप है. यदि आप लोगों को सही दिशा में गाइड कर सकते हैं तो ये बिजनेस किया जा सकता है. इसमें कोई कानूनी सलाह, प्रॉपर्टी डिस्प्यूट्स, शादी, बिजनेस, इन्वेस्टमेंट जैसी समस्याओं के बारे में सलाह दी जा सकती है. आजकल लोग ऐसी समस्याओं के लिए ऑनलाइन सर्च करते हैं. यहां आप अपनी वेबसाइट बनाकर लोगों को जोड़ सकते हैं. इसमें लोगो को महतवपूर्ण एप्लीकेशन, रिज्यूम और सीवी जैसी चीजें बनाकर भी आप अपने बिजनेस बढ़ा सकते हैं. इससे घर बैठे कमाई हो सकती है.
एक ऑनलाइन स्टोर बनाएँ: ऑनलाइन बिक्री खासकर तब ज्यादा प्रभावी होता है जब वे उत्पाद भौतिक बाजारों में ज्यादा ध्यान आकर्षित नहीं कर पाते हैं, लेकिन हाँ रोजमर्रा की चीजें भी बहुत से लोग ऑनलाइन खरीदते हैं, यदि आप वेब तकनीक के बारे में ज्यादा नहीं जानते या वेवसाइट को सँभालने के मामलें में उलझना नही चाहते हैं, आप अपने स्टोर को इबे (eBay) या कैफेप्रेस (caffePress) पर भी बना सकते हैं जो मुफ्त हैं। अथवा यह काम आप किसी वेब डिज़ाइनर को किराये पर रख कर या स्वयं भी कर सकते हैं।
डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति NDTV उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार NDTV के नहीं हैं, तथा NDTV उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

अगस्त, 2018 में खुद रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ही ट्वीट किया था कि 74 फीसदी छात्र परीक्षा में शामिल हुए. यानी 47.56 लाख छात्रों में से 26 प्रतिशत परीक्षा देने से वंचित रह गए. इस तरह बिना इम्तिहान दिए ही 12 लाख से अधिक छात्र बाहर हो गए. जब पहले चरण की परीक्षा का रिज़ल्ट आया, तो 12 लाख छात्र ही दूसरे चरण के लिए चुने गए. अब जब संख्या छोटी हो गई, तो इनके सेंटर तो राज्य के भीतर दिए जा सकते थे. अगर नकल गिरोह से बचाने का तर्क है, तो यह बेतुका है, क्योंकि आजकल ऐसे गिरोह अखिल भारतीय स्तर पर चल रहे हैं, इसलिए सरकार को अपने सेंटर की निगरानी बेहतर करनी चाहिए, न कि छात्रों को 2,000 किलोमीटर दूर भेजकर परेशान करना चाहिए.
ऑनलाइन रहस्यमयी खरीददार बने (mystery shopper): बहुत से लोगो ने असल दुनिया में रहस्यमयी खरीददार के बारे में सुना होगा, लेकिन ऑनलाइन खरीददारी में भी अब यह तेजी से बढ़ने लगा है, जिन्हें ऑनलाइन ख़रीददारी करने के लिए भेजा जाता है। यदि आप इसमें नयी शुरुआत ही कर रहे हैं, तो आपको खरीददारी के लिए लगने वाली कीमत के लिए तैयार रहना होगा, क्षतिपूर्ति के लिए आपका योग्य रहस्यमयी खरीददार होना जरुरी हैं।
×